Lens Eye - News P{ortal - इस चुनाव में विचारधारा की लड़ाई : सुबोध कांत सहाय.
Latest News Politics Top News

इस चुनाव में विचारधारा की लड़ाई : सुबोध कांत सहाय.

Lens Eye - News P{ortal -  इस चुनाव में विचारधारा की लड़ाई : सुबोध कांत सहाय.रांची, 22 मार्च, 2014 :: यूपीए गठबंधन धर्मनिरपेक्षता की लड़ाई सांप्रदायिकता से है, गठबंधन के कार्यकर्ता भाजपा को करारी शिकस्त देकर साबित कर देंगे कि गांधी के देश में सांप्रदायिकता की कोई जगह नहीं है। नामांकन दाखिल करने के बाद हरमू रोड स्थित सेलब्रेशन हाल में आयोजित बैठक को संबोधित करते हुए सुबोध कांत सहाय ने उक्त बातें कही।

कांग्रेस  कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए श्री सहाय ने कहा कि इस चुनाव में विचारधारा की लड़ाई है, जनता को तय करना है कि यह देश गांधी के विचारों पर चलेंगा या फिर गोडसे की सोच पर। देश में सांप्रदायिकता को रोकने के लिए यूपीए का गठन हुआ है, इस बार भी गठबंधन के कार्यकर्ता अपने पूरे दमखम से सांप्रदायिक शक्तियों के मनसूबें को विफल कर देंगे। उन्होंने कार्यकर्ताओं से अपील किया की चुनावी तैयारियों में घर घर जाकर लोगों को गांधीजी और गोडसे के विचारों में अंतर को बताए।

राज्य के कृषि मंत्री योगेंद्र साव ने कहा कि कांग्रेस , झामुमो तथा राजद के कार्यकर्ता इस चुनाव में पूरे राज्य से सांप्रदायिकता की हवा देकर वोट पाने शक्तियों को बेनकाब करते हुए राज्य में यूपीए गठबंधन को भारी सफलता दिलायेंगे।

शिक्षा मंत्री गीताश्री उराॅव ने कहा कि कांग्रेस  विकास और जनता के हितों की रक्षा के लिए योजनाएॅ बनाती है जबकि सता पाने के लिए भाजपा जैसे पार्टियाॅ सांप्रदायिकता को हवा देती है, लेकिन उनके मनसूबे को यूपीए के कार्यकर्ता विफल करने में सक्षम है।

पूर्व प्रदेश कांग्रेस  के अध्यक्ष एवं राज्यसभा सांसद प्रदीप बलमुचु ने कहा कि कांग्रेस  कार्यकर्ताओं की क्षमता और मेहनत के कारण ही आज काॅग्र्रेस पार्टी देश में पूरी मजबूती से खड़ी है। इस चुनाव में एक व्यक्ति को आगे कर चुनाव लड़ने के भाजपा और संघ के प्रयास को चुनाव के बाद मुंह की खानी पड़ेंगी।

राज्यसभा सांसद धीरज साहू ने कहा कि तेरह साल के शासनकाल में राज्य को लूटने वालों को इस चुनाव में जनता करारा जवाब देंगी, सता की सपना देखने वालों को जनता इस बार बाहर का रास्ता दिखायेंगी।

झाविमो से कांग्रेस  में शामिल हुए हाजी अख्तर अंसारी ने कहा कि अल्पसंख्यकों एवं बुनकरों का हित कांग्रेस  में ही सुरक्षित है, झाविमो जैसी दल मुस्लमानों को सिर्फ वोट बैंक के रूप में समझती है ऐसे लोगों को सबक सिखाने के लिए ही मैंने कांग्रेस  का दामन थामा और आगे देश में राज्य में धर्मनिरपेक्षता की रक्षा के लिए काम करूॅगा।

बैठक को प्रदेश महिला कांग्रेस  अध्यक्ष आभा सिन्हा, जिला परिसद उपाध्यक्ष सुंदरी तिर्की, पूर्व मेयर रमा खलखो, सुरंेद्र सिंह, ग्रेसी चैधरी, राजेश सिन्हा, बसंत टोप्पो, प्रिस बट्ट, रीता चैधरी, देवाशीष राय, दीपक लाल, सुरेश बैठा, दिवाकर साहू, मीना देवी, निरंजन शर्मा, सबिता कुजूर, ज्योति लकड़ा, राज अरोड़ा, पप्पु तिवारी, रणविजय सिंह, लक्ष्मी लामा, नंदू साव, टिन्कू वर्मा, एनुल हक, राकेश किरण, मुन्नी कच्छप सहित संसदीय क्षेत्र के कार्यकर्ता शामिल थे।

Information given by :: रवि चंद कपूर [ प्रभारी, मीडिया सेल ]

Share

Leave a Reply