चेम्बर भवन में बीएसएनएल का कैम्प :: लगभग 20 शिकायतों का त्वरित निष्पादन
Latest News Top News

चेम्बर भवन में बीएसएनएल का कैम्प :: लगभग 20 शिकायतों का त्वरित निष्पादन

चेम्बर भवन में बीएसएनएल का कैम्प :: लगभग 20 शिकायतों का त्वरित निष्पादनरांची, झारखण्ड । जनवरी | 07, 2016 :: झारखण्ड चेम्बर आॅफ काॅमर्स और बीएसएनएल के संयुक्त प्रयास से आज चेम्बर भवन में पूरे दिन भर कैम्प का आयोजन किया गया। कैम्प में लगभग 45-50 शिकायतें आईं जिनमें 20 शिकायतों का त्वरित निष्पादन किया गया। शिकायतकर्ताओं ने कैम्प में बढचढकर हिस्सा लिया और अपनी समस्याओं से उपस्थित पदाधिकारियों को अवगत कराया। कैम्प में आये समस्याओं में मुख्य रूप से लैण्डलाईन की खराबी, ब्राॅडबैण्ड काम नहीं करना, इंटरनेट की स्पीड कम होना, बिल नियमित रूप से नहीं पहुॅंचना तथा काॅल ड्राॅप की समस्याएॅं थीं। बैठक में उपस्थित पदाधिकारियों ने बताया कि बीएसएनएल की सेवा काफी सुचारू है किंतु समस्याओं को बढाने में सडक/नाली निर्माण मुख्य बाधा बनी हुई है। सडकों के निर्माण के क्रम में बार-बार केबलों को ध्वस्त कर दिया जाता है, जिससे समस्या आन पडती है। इसके अलावा शहर के विभिन्न क्षेत्रों में लगातार हो रही केबल चोरी की समस्या से भी विभाग परेशान है। फिर भी विभाग अपने सीमित संसाधनों से सभी खराब टेलिफोन को जल्द से जल्द रि-स्टोर करने का काम करता है। यह भी बताया कि बीएसएनएल द्वारा कई बार इस समस्याओं से पीएचडी, नगर निगम, बिजली विभाग सहित अन्य उच्चाधिकारियों से भी चर्चा की गई है। क्योंकि सडक/नाली निर्माण के क्रम में बिना किसी सूचना के ही किसी भी सडक को तोड दिया जाता है जिससे काफी संख्या में टेलिफोन के तार ध्वस्त कर दिये जाते हैं। विभागीय सामंजस्य बनाकर ही सडकों का कार्य हो तो टेलिफोन और इंटरनेट की सेवाओं को सुचारू रखा जा सकता है। बैठक में सभी पदाधिकारियों ने चेम्बर से भी इस ओर अपना सार्थक सहयोग देने की बात कही।

चेम्बर के टेलिकम्यूनिकेशन उप समिति चेयरमेन प्रवीण छाबडा ने कहा कि फेडरेशन चेम्बर ने सडक निर्माण के क्रम में बीएसएनएल को होनेवाली परेशानियों पर गत दिनों मुख्य सचिव से भी वार्ता की थी, जिसके कई सार्थक परिणाम देखने को मिले थे। किंतु पुनः ऐसी समस्या आ रही है जो चिंता की बात है। फेडरेशन चेम्बर इस समस्या से सभी सम्बन्धित विभागों के सचिव से वार्ता करेगा और यह आग्रह करेगा कि किसी भी निर्माण कार्य के पूर्व बीएसएनएल को सूचित किया जाय ताकि उपभोक्ताओं को होनेवाली अनावश्यक परेशानियों से बचाया जा सके। उन्होंने यह भी कहा कि ऐसा नहीं है कि सिर्फ बीएसएनएल की सेवा ही लोगों को परेशान कर रही है बल्कि सभी दूरसंचार कंपनियांे की सेवाएॅं वर्तमान में काॅल ड्राॅप के रूप में उपभोक्ताओं को विशेष रूप से परेशान कर रही हैं। लेकिन बीएसएनएल से लोगों को ज्यादा लगाव है और यही कारण है कि लोग चाहते हैं कि बीएसएनएल लोगों को उनकी अपेक्षा के अनुरूप अपनी सेवाएॅं बिना किसी रूकावट के प्रदान करता रहे।

बैठक के दौरान विभागीय पदाधिकारियों की ओर से रखी गई समस्याओं के आधार पर झारखण्ड चेम्बर यह महसूस करता है कि बीएसएनएल को पीएचडी, नगर निगम और बिजली विभाग के द्वारा किसी प्रकार का सहयोग नहीं दिये जाने से ही बीएसएनएल की शिकायतों में बढोत्तरी हो रही है। जिसके निराकरण को लेकर विभागीय पदाधिकारियों को सहयोगात्मक रवैया अपनाना चाहिए। कैम्प में कई उपभोक्ताओं के काफी पुराने लम्बित शिकायतों का भी निराकरण कराया गया। कुल मिलाकर आज का कैम्प बीएसएनएल के उपभोक्ताओं के लिए काफी लाभप्रद साबित हुआ जिस हेतु झारखण्ड चेम्बर आॅफ काॅमर्स विभाग के जीएम को धन्यवाद देता है। आज के इस कैम्प में चेम्बर अध्यक्ष पवन शर्मा, महासचिव विनय अग्रवाल, उपाध्यक्ष कुणाल अजमानी, सह सचिव आनन्द गोयल, राहुल मारू, सदस्य प्रवीण छाबडा, श्यामसुन्दर अग्रवाल, आनन्द जालान, बीएसएनएल की ओर से संजीव वर्मा (डीजीएम सीएफडी), नागेन्द्र कुमार, एस.के. भगत (डीजीएम-टी एण्ड सीएम), पीके गोस्वामी, आरआर तिवारी, एसके प्रसाद, एसबीपी सिंह, एस.के मुखर्जी, डी.सेलवाराजू, आरके किशोर, बी सिंह, अमरचन्द आनन्द, रामलाल महतो, सुदर्शन सिंह के अलावा काफी संख्या में बीएसएनएल के शिकायतकर्ता उपस्थित थे।

Share

Leave a Reply