तारा मंडल का निर्माण सपनों को साकार करने जैसा : हेमन्त सोरेन [ मुख्यमंत्री, झारखण्ड ]
Latest News Politics Top News

तारा मंडल का निर्माण सपनों को साकार करने जैसा : हेमन्त सोरेन [ मुख्यमंत्री, झारखण्ड ]

तारा मंडल का निर्माण सपनों को साकार करने जैसा : हेमन्त सोरेन [ मुख्यमंत्री, झारखण्ड ]राँची, झारखण्ड 28 फरवरी 2014 :: राँची का तारा मण्डल देश के गिने चुने तारा मण्डलों में एक होगा। तारा मंडल का निर्माण सपनों को साकार करने जैसा है। मुख्यमंत्री  हेमन्त सोरेन ने उपरोक्त बातें आज स्थानीय साईंस सेंटर में तारा मंडल भवन के शिलान्यास के उपरांत सभा को सम्बोधित करते हुए कहा। उन्होंने कहा कि यह एक संयोग है कि आज विज्ञान दिवस है, और आज ही साईंस सेंटर के फेज-2 के निर्माण के तहत तारा मंडल का शिलान्यास किया गया है। इसका निर्माण झारखण्ड के लिए एक महत्वपूर्ण उपलब्धि होगी। यहाँ के बच्चों, युवा जिनमें विज्ञान के प्रति एक उत्सुकता होती है, यह तारा मंडल उनकी ज्ञान को बढ़ाने में सहयोगी होगा। विज्ञान एवं तकनीक का जटिल विषय तारा मंडल के माध्यम से उनके लिए सहज ग्राह्य होगा। तारा मंडल के निर्माण में आम आदमी की मानसिकता को भी ध्यान में रखा जाता है। उनके मनोरंजन के लिए भी बहुत कुछ होगा। विज्ञान की किताबों के माध्यम से बच्चे ब्रह्मांड को समझने की कोशिश करते हैं, उनके लिए पूरा ब्रह्मांड एक काल्पनिक दुनिया जैसी होती है। तारा मंडल ब्रह्मांड को समझने में सहयोगी होगा।

उन्होंने कहा कि सरकार का यह प्रयास होगा कि लगभग 27 करोड़ की लागत से बनने वाला यह तारा मंडल शीघ्र ही बन कर तैयार हो और आमलोगों को इसका लाभ मिले।

इस अवसर पर अपर मुख्य सचिव विज्ञान एवं प्रावैधिकि डाॅ. ऐ. के. पाण्डेय ने कहा कि तारा मंडल ब्रह्मांड के नायाब चीजों से लोगों को अवगत कराएगा। विज्ञान के नए सिद्धांतों को समझाएगा। क्यूरेटिव म्यूजियम डिजाएनर, एन.सी.एस.एम. कोलकाता के एम. डी.  एस. सेन ने प्रस्तावित तारा मंडल से सम्बंधित प्रस्तुतिकरण दिया जिसमें उन्होंने प्रस्तावित तारा मंडल के भौगोलिक संरचना एवं उसमें दिखाए जाने वाले कार्यक्रमों के सम्बंध में विस्तृत चर्चा की। 150 से 160 व्यक्ति के बैठने की क्षमता वाले तारा मंडल में प्रतिदिन पाँच शो किए जाएंगे। शो के दौरान ब्रह्मांड की उत्पत्ति, बिग बैंक थ्यूरी, ब्लैक होल, ट्रेडिशनल एस्ट्रोनोमी जैसे विषयों को स्टार एनिमेशन के माध्यम से समझाया जाएगा।

कार्यक्रम के दौरान एन.सी.एस.एम. के एम. डी.  एस0 सेन एवं झारखण्ड सरकार की ओर से उप सचिव विज्ञान एवं प्रावैधिकि  के. पी.  सिंह ने एम. ओ. यू.  पर हस्ताक्षर किया। कार्यक्रम में उपायुक्त राँची  विनय कुमार चैबे, क्यूरेटर विज्ञान केन्द्र आर. के. चैधरी समेत अनेक गणमान्य लोग उपस्थित थे।

Source :: IPRD, Jharkhand.

 

Share

Leave a Reply