प्रत्येक ज़िले में एक आधुनिक एवं सुसज्जित महिला थाना अधिसूचित होगा :: रघुवर दास [ मुख्यमंत्री, झारखण्ड ] 

 

14-Raghubar-Dasरांची, झारखण्ड । अक्टूबर । 14, 2015 :: झारखण्ड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि सरकार महिलाओं के उत्थान एवं महिला सशक्तिकरण के प्रति बेहद संवेदनशील हैं। इस बाबत सरकार ने यह निर्णय लिया है कि प्रत्येक जिला में एक आधुनिक एवं सुसज्जित महिला थाना अधिसूचित होगा, जहां महिलाओं से संबंधित मामलों के अतिरिक्त बच्चों तथा पारिवारिक विवाद से संबंधित मामलों में कार्रवाई की जा सकेगी। इन थानों में महिला पदाधिकारी एवं कर्मचारी ही कार्यरत होंगे। महिलाएं बेहिचक मामला दर्ज करा सकेगी। वे आज प्रोजेक्ट भवन स्थित सभा कक्ष में पुलिस सुदृढि़करण एवं पुलिस रिफोर्म से संबंधित बैठक को संबोधित कर रहे थे।

      मुख्यमंत्री श्री दास ने कहा कि पुलिस पदाधिकारियों में सेवा की भावना होनी चाहिए एवं कार्यशैली इस प्रकार होनी चाहिए की एक आम आदमी बिना भय के संवाद कर सके। उन्होंने थाना के आधारभूत संरचनाओं को सुदृढ़ करने तथा स्वच्छ रखने के लिय भी कहा। प्रथम चरण में रांची में 16, जमशेदपुर में 17 थानों के अतिरिक्त धनबाद में भी महत्वपूर्ण थानों को सुदृढ़ किया जाएगा। स्वच्छ थाना को पुरस्कृत भी किया जाएगा। थाना परिसर में पड़ी पुरानी गाडि़यों को नियमानुसार निलामी करने का भी आदेश दिया गया।

     बैठक में गृह विभाग ने विडियो प्रजेंटेशन में पुलिस के माॅडर्नाइजेशन के संबंध में विस्तार से बताया। इसमें पुलिस थाना के वर्गीकरण, थाना में विभिन्न स्तर के पुलिस पदाधिकारियों एवं कर्मचारियों की नियुक्ति, प्रोन्नति, प्रशिक्षण आदि पर विस्तार से बताया गया। संवेदनशील मामलों के निष्पादन हेतु जिला स्तर पर स्पेशलाईज्ड इन्वेस्टिगेशन टीम के गठन का भी प्रस्ताव है। न्यायिक मामलों में त्वरित गति से कार्रवाई हो सके इस लिए प्रत्येक जिला में पुलिस अधीक्षक कार्यालय के साथ-साथ सदर अस्पताल में वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग की व्यवस्था की जाएगी।

            बैठक में मुख्य सचिव राजीव गौबा, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव संजय कुमार, प्रधान सचिव गृह विभाग एन. एन. पाण्डेय, पुलिस महानिदेशक डी. के. पाण्डेय, अपर पुलिस महानिदेशक एस.एन.प्रधान, मुख्यमंत्री के सचिव सुनील वर्णवाल समेत गृह विभाग के अन्य वरीय पदाधिकारीगण उपस्थित थे।

Leave a Reply