IPRD
Latest News Top News

लोग अपनी समस्याओं को सोशल मीडिया के माध्यम से सरकार तक पंहुचा रहे हैं : अवधेश कुमार पाण्डेय [निदेशक, सूचना जनसम्पर्क विभाग ]

IPRDराँची, झारखण्ड | जुलाई | 24, 2015 :: सूचना जनसम्पर्क विभाग के निदेशक अवधेश कुमार पाण्डेय ने कहा कि आज सोशल मीडिया अपने व्यापकता सर्वग्राहता तथा बहुआयामी उपयोग के कारण जनप्रिय हो गया है। अतः हमें भी इसका उपयोग सरकार एवं आमजनों के बीच सेतु के रुप में प्रभावी रुप से करना है ताकि जनता की शिकायतों का त्वरित निष्पादन किया जा सके। उन्होंने कहा कि इसके माध्यम से शिकायतों का निष्पादन किया भी जा रहा है तथा राज्य के शीर्शस्थ पदाधिकारी सोशल मीडिया से प्राप्त शिकायत पर कड़ी कार्रवाई कर चुके है। वे आज सूचना जनसम्पर्क विभाग के सभागार में यूनिसेफ द्वारा सोशल मीडिया के संबंध में आयोजित कार्यशाला में बोल रहे थे।
श्री पाण्डेय ने कहा कि आज सूचानायें, संदेश सोशल मीडिया के द्वारा शीघ्रता से संचारित हो रही है। इस परिपेक्ष्य में यह आवष्यकता है कि विभाग के पदाधिकारी सहित सभी जिला जनसम्पर्क पदाधिकरी तथा विभाग से सम्बध अन्य कर्मी भी सोशल मीडिया का उपयोग कर सरकार की योजनायें,सूचनाओं एवं अन्य आवष्यक गतिविधियों से जनता को अवगत करायें। आज सोशल मीडिया के माध्यम से ई-पेपर का उपयोग अधिक से अधिक हो रहा है। उन्होंने कहा कि विभाग के पदाधिकरी सोशल मीडिया का उपयोग अधिक से अधिक करें। उन्होंने कहा कि इस तरह के कार्यशाला के आयोजन से निष्चित तौर पर विभाग के पदाधिकारियों को लाभ होगा। वे आज के परिवेश में सोशल मीडिया के उपयोग एवं उसकी महत्ता से अवगत हो पायेंगे। उन्होंने कहा कि यदि पदाधिकारी सोशल मीडिया के माध्यम से लोगों की समस्याओं को सरकार तक पंहुचाये तो सरकार तक लोगों की समस्या शीघ्र पंहुचेगी। आज सोशल मीडिया सरकार और जनता के बीच एक महत्वपूर्ण कड़ी बन गयी है। आज लोग अपनी समस्याओं को सोशल मीडिया के माध्यम से सरकार तक पंहुचा रहे हैं।
निदेशक ने विभाग के सभी पदाधिकरियों को निदेश दिया कि इस कार्यशाला में सोशल मीडिया के विभिन्न आयामों को अच्छी तरह समझें ताकि भविष्य में किसी भी प्रकार की समस्या न हो और सोशल मीडिया का उपयोग किस प्रकार करना है इसे भली-भांति समझ सकें। उन्होंने पदाधिकरियों को निदेश दिया कि वे छोटी से छोटी सूचनाओं को भी सोशल मीडिया के माध्यम भेजें ताकि इस संबंध में सरकार को जानकारी प्राप्त हो सके एवं उसके निदान हेतु आवष्यक कार्रवाई की जा सके।
श्री अवधेश कुमार पाण्डेय ने कहा कि सूचना जनसम्पर्क विभाग सोशल मीडिया का उपयोग कर रहा है। विभाग द्वारा मुख्यमंत्री के फेसबुक और वाॅटसअप पर मीडिया ग्रुप के माध्यम से सूचनायें संप्रेशित की जा रही है। उन्होंने पदाधिकारियों को कहा कि व्यक्तिगत रुप से भी सोशल मीडिया का उपयोग कर सूचनायें दें तथा अपने प्रयास से इसे और व्यापक बनायें।
कार्यशाला में यूनिसेफ की राज्य प्रमुख श्रीमती मधुलिका जोनाथन ने कहा कि सरकारी पदाधिकारी सरकार एवं समाज के प्रति अपना एक लक्ष्य लेकर कार्य करें। सोशल मीडिया का उपयोग अधिक से अधिक करें। उन्होंने कहा कि यदि किसी भी प्रकार की कोई भी समस्या होती है तो वह हरसंभव मदद को तैयार हैं।
कार्यशाला में यूनिसेफ के मास्टर ट्रेनर दीपक गुप्ता ने उपस्थित सभी पदाधिकारयों को सोशल मीडिया के उपयोग, कार्य एवं इसके लाभ के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी दी। उन्होंने कहा कि आज से तीन दशक पहले पूरे कार्यालय मंर मात्र एक कम्पयूटर हुआ करता था और इसे सिर्फ टाईपिंग का विकल्प मात्र माना जाता था, फिर इसमें बदलाव आया और इसका उपयोग डाटा स्टोर के रुप किया जाने लगा, परंतु आज काफी परिवर्तन आ चुका है, आज इंटरनेट के माध्यम से यह कम्यूनिकेशन का माध्यम बन गया है। आज प्रत्येक हाथ में स्मार्टफोन है, जो कम्पूटर की तरह की कार्य करता है और इसके माध्यम से सोशल मीडिया का उपयोग अधिक से अधिक किया जा रहा है। उन्होंने सोशल मीडिया के विभिन्न आयामों यथा, टिवट्र, फेसबुक, वाॅटसअप, इंसटाग्राम, पर्सनल-ब्लाॅगस, यू-टयूब चैनल, मोबाईल-लिकिंग, लिंकडिन, गूगल$हैंगआउटस के बारे मे विस्तारपूर्वक जानकारी दी।
कार्यशाला में उपनिदेशक श्रीमती शालिनी वर्मा, विभिन्न प्रमडण्लों के उपनिदेशक, सहायक निदेशक, विभिन्न जिलो से आये जनसम्पर्क पदाधिकारी सहित विभाग के कर्मी उपस्थित थे।

Share

Leave a Reply