सूरजकुंड शिल्प मेले 2015 में मानव रचना इंटरनेशनल यूनिवर्सिटी के मैनेजमेंट के छात्रों द्वारा श्रमदान

सूरजकुंड शिल्प मेले 2015 में मानव रचना इंटरनेशनल यूनिवर्सिटी के मैनेजमेंट के छात्रों द्वारा श्रमदान सूरजकुंड, फरीदाबाद 14 फरवरी  2015 ::  एम० बी० ए० कार्यक्रम का मुख्य आधार जीवन में व्यापारिक परिस्थितियों से निपटने का प्रशिक्षण है । और इस सिद्धांत को पुष्ट करने के लिए मानव रचना फैकल्टी ऑफ़ मैनेज में टस्टडीस ( FMS ) छात्रों को प्रशिक्षण के उचित अवसर प्रदान करता है ।

इस समय फरीदाबाद में वर्ष का बहुप्रतीक्षित सूरजकुंड अंतर्राष्ट्रीय शिल्पा मेला लगा हुआ है और देश के विभिन्न राज्यों से जनसमूह इस मेले को देखने आ रहा है । देश के साथ साथ विदेशों से भी पर्यटक इस मेले का आनंद उठाने के लिए आ रहे हैं 1 फरवरी 2015 को मेले का शुभारम्भ छत्तीसगढ़ थीम के साथ हुआ । मेले में संगीत, नृत्य, मस्ती और उल्लास के साथ साथ भारतीय संस्कृति की झलक भी दृष्टिगो चर होती है । मानव रचना फैकल्टी ऑफ़ मैनेजमेंट स्टडीस ने एक दिन के लिए मेला संचालित करने हेतु हरियाणा पर्यटन विभाग से अनुमतिप्राप्तकी । FMS के 130 छात्रों ने स्वैच्छिक कर्त्तव्य का प्रदर्शन करते हुए अपनी अपनी ज़िम्मेदारियों को अच्छी तरह से निभाया । FMS के छात्र मेले में स्थानस्था पर अपनी जिम्मेदारियों का वहन कर रहे थे । मेले के प्रवेशद्वार से लेकर अंतिम द्वार तक FMS के छात्रपर्यट की सहायता कर रहे थे । कुछ छात्रों ने मीडिया कवरेज बनाने के लि ए मीडिया कर्मियों के सहायता की ।सूरजकुंड शिल्प मेले 2015 में मानव रचना इंटरनेशनल यूनिवर्सिटी के मैनेजमेंट के छात्रों द्वारा श्रमदानFMS के छात्रों ने विदेशी प्रतिनिधिमंडलों के साथ बातचीत के एवं उन्हें भारतीय संस्कृति के महत्त्व के विषय में भी बताया । FMS होटल मैनेज में टके छात्रों ने होटल मैनेजमेंट फरीदाबाद संस्थान केस्टाल परखाद्यवस्तुएँ औरपेयपदार्थों काभीविक्रय किया| जहाँ एक ओर आगंतुकपर्यटक मेले का आनंद ले रहे थे वहीं दूसरी ओर FMS के छात्र इवेंटमैनेजमेंट, संकट प्रबंधन का प्रशिक्षण ले रहे थे।

Leave a Reply