दैनिक राशिफल : दिनांक 14 अप्रैल  2017, दिन शुक्रवार ::  ज्योतिष शास्त्री डॉ सुनील बर्मन ( स्वामी दिव्यानंद )

Sunil Burmanरांची, झारखण्ड । अप्रैल  | 14, 2017 :: ज्योतिष शास्त्री डॉ सुनील बर्मन ( स्वामी दिव्यानंद ) के अनुसार दैनिक राशिफल : दिनांक 14 अप्रैल  2017, दिन शुक्रवार

 मेष- दुर्घटना के योग बन रहे हैं हनुमान जी की आराधना से रक्षा अवश्य होगी साथ ही अपनी ओर से यथासंभव सावधानी बरतें, निवेश के माध्यम से लाभ भी होंगे।

वृष- जीवन साथी को सही सम्मान प्यार का प्रदर्शन करें क्योंकि दांपत्य जीवन में कटुता एवं तनाव के योग हैं, वैसे मन बिनोदपूर्ण अवस्था में रहेगा।

मिथुन- शत्रु के आतंक के कारण परेशान रहेंगे, शांती पूर्वक ढंग से समय को चलने दें विचलित ना हों, शौक मौज के पीछे होने वाले खर्च को नियंत्रित किया जा सकता है।

कर्क- बिद्यार्थियों को कठिन परिक्षा का समय मानकर चलना है अभी धैर्यपूर्ण तरिके से समय को निकालना है, स्मरण रहे योजनाबद्ध तरिके से किया गया कार्य सफलता की मंजिल तक पंहुचा देगा।

सिंह- पिताश्री की ओर से हो सकता है कोई आकस्मिक उपहार प्राप्त हो जाय, पर माताजी की सेवा में कमी ना हो पायें ख्याल रहे तबियत में गडबडी रह सकती है।

कन्या- आध्यात्मिक उन्नती के लिये अच्छा अवसर है गुरुकृपा से उन्नती होगी, पर याद रहे पुरुषार्थ में कमी ना होने पायें पराक्रम सफलता की पूंजी है ईसका उपयोग करें।

तुला- कुलदेवता की कृपा से आयुष्य रक्षा हो रही है, किन्तु संचित धन की हानी भी संभव जान पडता है, कुटुंब के सहयोग में भी उदासिन भाव है।

बृषिचक- कहीं सत्संग आदि का अवसर मिले तो अवश्य भाग लें उर्जा मिलेगी, मन में अवसाद का भाव न पनपने दें, बाकी मां मंगल करें।

धनु- कोशिश करें करें विरोधियों के साथ मिलजुल कर हंसी मजाक तथा छोटी मोटी पार्टी आदि करके निपटा लें, बाहरी स्थानों से संबधित कार्य में बिशेष ध्यान दें।

मकर- किये गये प्रयास के नतीजे सकारात्मक न मिलने से मन मलीन तो होगा ही पर नयी
उर्जा नये तेवर के साथ पुनः प्रयास करें, संतान को विलासिता के पीछे ज्यादा ध्यान
होगा।

कुंभ- नौकरी के क्षेत्र में चिंताजनक स्थिती आ सकती है उचित प्रयास कर ठीक करें, शनि देव के स्मरण से परिस्थीती में सुधार आयेगी, पर घर में आनन्द रहेगा।

मीन- धार्मिक कार्य में बाधा के योग बनते हैं, वैसे भाईयों के साथ मिलबैठ कर मनोरंजन आदि के कार्यक्रम बन सकते हैं जिसे आप भी इंज्वाय करें।

——————————————————– ——
तिथी – तृतिया दिवा 03.06 पर्यन्त, उपरान्त चतुर्थी
पक्ष – कृष्ण

मास – वैशाख

विक्रम संवत – 2074

शकसंवत – 1939

नक्षत्र – विशाखा दिवा 08.54 पर्यन्त, उपरान्त अनुराधा

दिशाशूल – पशिचम एंव नैऋत्य की यात्रा ना करें, आवश्यक हो,
तो दही ग्रहण कर घर से निकलें,

राहूकाल – 10.30 से 12.00

चैघडिया मुहूर्त – लाभ — 08.05 से 09.47

अमृत — 09.48 से 11.28

शुभ — 01.10 से 02.52

चल — 06.14 से 07.55

जन्मदिन मंगलम- श् 5 श्
अंक ज्योतिष के अनुसार- स्वामी ‘‘ बुध देव ‘‘ हैं।

शुभ व्यवसाय- अभियंता पुरातत्व, राजनीति, बीमा, आदि।

शुभ रंग- हरा, खाकी, सफेद।

शुभ मंत्र- ॐ बुं बुधाय नमः।
देव- गणपति जी महाराज।
आज का व्रत त्योहार/खास- श्रीगणेश चतुर्थी व्रत।

डा. स्वामी दिब्यानन्द (डा. सुनिल बर्मन) 9431108333

Leave a Reply