दैनिक राशिफल : दिनांक 17 मार्च 2017, दिन शुक्रवार ::  ज्योतिष शास्त्री डॉ सुनील बर्मन ( स्वामी दिव्यानंद )

Sunil Burmanरांची, झारखण्ड ।  मार्च | 17, 2017 :: ज्योतिष शास्त्री डॉ सुनील बर्मन ( स्वामी दिव्यानंद ) के अनुसार दैनिक राशिफल : दिनांक 17 मार्च 2017, शुक्रवार

————————————————

मेष- ब्यापार के मामले में बिशेष लाभ प्राप्त होने वाले हैं, चहुंओर लाभ एवं उन्नती के ही योग बनते हैं, पत्नी के स्वास्थ्य में बिशेष ध्यान देने की आवश्यकता है।

वृष- छल बल दोनों के प्रयोग से शत्रु का शमन होगा, ब्यापारिक स्थल में थोडी साज सज्जा की आवश्यकता है ताकि ग्राहकों का ध्यान आपकी ओर आकृष्ट हो।

मिथुन- बिद्यार्थियों को अपने क्षेत्र में बिशेष लाभ मिलने की आशा है वे लगे रहें अपनी धुन में, अपनी सारी ब्यस्तता के बीच थोडा खास समय निकालें किसी खास के लिये।

कर्क- मकान में आज तो एकदम उत्सव का माहौल रहेगा भरपूर मजा लें आप भी, पर दैनिक ब्यवसाय के क्षेत्र में थोडे खास तौर पर केन्द्रित होना पडेगा।

सिंह- भाईयों के साथ बिगडे हुवे संबधों में सुधार आयेगी आपका भी प्रयास होनी चाहिये, आज आपका गुस्सा थोडा ज्यादा ही रहेगा अवश्य नियंत्रण करें।

कन्या- सब कुछ ठिक ठाक रहेगा पर छाती से संबधित कोई परेशानी हो सकती है आदित्य हृदय स्त्रोत का पाठ करना श्रेयस्कर होगा, दाम्पत्य जीवन में आनन्द रहेगा।

तुला- थोडी परेशानी अवश्य आयेगी आप बिल्कुल विचलित ना हों धैर्यपूर्वक अपना कार्य करते जायें
आशातित लाभ अवश्य प्राप्त होंगे।

बृषिचक- मन में रोमांस का भूत सवार रहेगा इंज्वाय अवश्य करें पर उद्येश्य से एकदम ना भटकें, आपका प्रयास मंजिल तक अवश्य पंहुचायेगा, माता लक्ष्मी का ध्यान करें।

धनु- धनागम के नये श्रोत खुलने वाले हैं आपका साकारात्मक प्रयास रंग लायेगा, श्री हरी बिष्णु जी का स्मरण करके श्रीगणेश करें सब मंगल होगा।

मकर- बडा स्वप्न देखें तथा उनके अनुरुप कार्य का प्रयास भी करें सफलता अवशयंभावी है, शौक मौज के पीछे के खर्च में थोडी कटौती आवश्यक है।

कुंभ- उद्योग धंधे में लगे जातकों के लिये तो स्वर्णिम समय है जितना लाभ उइा सकते हैं उठा लें, बस पत्नी से सावधान रहें क्योंकि उनका गुस्सा सातवें आसमान पर रहेगा उनका भी ख्याल रखें।

मीन- जीवन साथी को चोट आपरेशन आदि के योग बनते हैं जितना आप सावधान रख सकते है
रखें बाकी भगवान से प्रार्थना करें।
———————————————————————————————————————-

तिथी – पंचमी रात्री 01.31 पर्यन्त, उपरान्त षष्ठी
पक्ष – शुक्ल

मास – फाल्गुन
विक्रम संवत – 2073
शकसंवत – 1937
नक्षत्र – विशाखा रात्री 01.38 पर्यन्त, उपरान्त अनुराधा
दिशाशूल – पशिचम एंव नैऋत्य की यात्रा ना करें, आवश्यक हो, तो दही
खाकर घर से निकलें,

राहूकाल – 10.30 से 12.00

चैघडिया मुहूर्त – चल — 07.22 से 08.51

लाभ — 08.52 से 10.22

अमृत –10.23 से 11.48

शुभ — 01.18 से 02.46

जन्मदिन मंगलम- श् 8 श्

आज का अंक ज्योतिष के अनुसार- स्वामी ‘‘ शनिदेव ‘‘ हैं।

शुभ व्यवसाय- लोहा, न्यायालय, कसरत, तेल उद्योग, गैस, पेट्र®ल, आदि।

शुभ रंग- नीला, सफेद, हरा।

शुभ मंत्र- ॐ शं शनिश्चरायै नमः।
आज का व्रत त्योहार/खास- रंग पंचमी।

डा. स्वामी दिब्यानन्द (डा. सुनिल बर्मन) 9431108333

Leave a Reply