रांची विश्वविद्यालय :: दर्शनशस्त्र विभाग में मना कर्तव्यबोध दिवस

रांची विश्वविद्यालय :: दर्शनशस्त्र विभाग में मना कर्तव्यबोध दिवसराँची, झारखंड | जनवरी  | 20, 2017 :: रांची विश्वविद्यालय के पी.जी. फिलाॅस्फी डिपार्टमंेट में स्वामी विवेकानंद की जयंती कर्तव्यबोध दिवस के रूप में मनाई गई। स्वामी विवेकानंद के चित्र के समक्ष दीप प्रज्जवलित कर कार्यक्रम की शुरूआत की गई।

इस अवसर पर बोलते हुए डाॅ॰ सरस्वती मिश्रा ने स्वामी जी के जीवन पर प्रकाश डालते हुए सार्वभौम धर्म के बारे में बताया।उन्होंने कहा कि जो लोग संत हो जाते हैं उनके लिये सभी एक समान हो जाते हैं।

मौके पर बोलते हुए डाॅ॰ सुशील कुमार अंकन ने उनके जीवन की कई ऐसी घटनाओं के बारे में बताया जिससे युवा प्रेरणा लेकर राष्ट्र निर्माण की ओर अग्रसर हो सकते हैं। स्वामीजी युवाओं के लिये गोल्डन आईकन के रूप में स्थापित हुए हैं।

डाॅ॰उषा किरण ने भी इस मौके पर स्वामीजी के जीवन पर प्रकाश डाला। इस अवसर पर सृृष्टि वर्मा, चंदा कुमारी, दीपा सपना, इंदू बड़ाईक सहित कई विद्यार्थियों ने भी स्वामी विवेकानंद पर अपने अपने विचार रखे।

कार्यक्रम का संचालन डाॅ॰ सुशील कुमार अंकन ने किया। इस अवसर पर डाॅ॰ सरस्वती मिश्रा, डाॅ॰ उषा किरण, डाॅ॰ अजय कुमार सिंह, पूजा कुमारी, मंजूषा पूर्ति, शशि बाला, इंदू बड़ाईक सहित विभाग के अन्य कई लोग मौजूद थे।

 

Leave a Reply