कलाकृति स्कूल ऑफ़ आर्ट्स डोरंडा एवं कलाकृति आर्ट फाउंडेशन में शिक्षक दिवस का आयोजन

04-Kalakritiरांची, झारखण्ड । सितम्बर ।  04, 2016 :: कलाकृति स्कूल ऑफ़ आर्ट्स डोरंडा एवं कलाकृति आर्ट फाउंडेशन के तत्वाधान में दिनांक 4 सितम्बर 2016 को शिक्षक दिवस का आयोजन संस्था के छात्रों ने किया| इस अवसर पर बच्चों ने विभिन्न संस्स्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया | इस अवसर पर संस्था के निदेशक एवं कला शिक्षक धनंजय कुमार ने बताया की डॉक्टर राधाकृष्णन पूरी दुनिया को ही एक विद्यालय के रूप में देखते थे । उनका विचार था कि शिक्षा के द्वारा ही मानव मस्तिष्क का सही उपयोग किया जा सकता है। अत: विश्व को एक ही इकाई मानकर शिक्षा का प्रबंधन करना चाहिए। शिक्षा को मानव व समाज का सबसे बड़ा आधार मानने वाले डॉ.सर्वपल्ली राधाकृष्णन का शैक्षिक जगत में अविस्मरणीय व अतुलनीय योगदान सदैव अविस्मरणीय रहेगा। इस अवसर पर समाजसेवी संस्था कलाकृति आर्ट फाउंडेशन के अध्यक्ष  रविशंकर गुप्ता जी, शशिकांत, मोहमद कलाम , अजय कुमार, डब्लू कुमार, कृष्णा कुमार, आदि मौजूद थें|

इस कार्यक्रम को सफल बनाने में संस्था की छात्रों जिसमे अकबर, सना काज़मी, ज्योत्सना, हर्षिता, आकाश, हर्ष , विकाश, शुभम, बिनोद, रूबी, तन्वी, आरती, नेहा, सरोजिनी एवं सभी छात्रों का योगदान रहा |
कलाकृति स्कूल ऑफ़ आर्ट्स डोरंडा कन्या पाठशाला में विगत 16 वर्षों से प्रतेक रविवार को प्रातः 7:00 बजे से विभिन्न वर्गों के छात्र छात्राओं को चित्रकला की शिक्षा प्रदान करती है | कोई भी इछुक छात्र छात्राएं किसी भी समय संस्था में दाखिला ले सकते हैं | यह जानकारी कलाकृति स्कूल ऑफ़ आर्ट्स के निदेशक एवं कला शिक्षक श्री धनंजय कुमार ने दी |

Leave a Reply