Latest News Top News

लोहरदगा :: अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस सह स्वच्छ शक्ति सप्ताह

International women dayलोहरदगा, झारखण्ड ।  मार्च | 08, 2017 :: केन्द्र व राज्य सरकार की प्राथमिकता के कारण स्वच्छता आज आंदोलन बन चुका है। अब इसे जन आंदोलन बनाने की जरूरत है, जिसमें महिलाओं का अहम योगदान होगा। उक्त बातें उपायुक्त विनोद कुमार ने गुरूवार को प्रखंड परिसर स्थित सहकारिता भवन में पेयजल एवं स्वच्छता मिशन प्रकल्प के तत्वधान में आयोजित अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस सह स्वच्छ शक्ति सप्ताह का द्वीप प्रज्जवलित कर शुभारंभ करते हुए बतौत मुख्य अतिथि कही। उन्होंने कहा कि स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण को पूरा करने के लिए महिलाओं की भागीदारी अति आवश्यक है क्योंकि हमारी आधी आबादी महिलाओं की है और गंदगी के कारण महिलाओं को ही ज्यादा दिक्कतें होती है। उन्होंने कहा कि रोजमर्रा के जीवन में स्वच्छता आए और स्वच्छता हमारे व्यवहार का हिस्सा बने, इसी उद्देश्य को लेकर सरकार ने सभी राज्यों के प्रत्येक जिले में यह कार्यक्रम की घोषणा की है। उन्होंने अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस शुभकामनाएं देते हुए आहवा किया कि पूरा सप्ताह स्वच्छता के लिए समर्पित रहे। जिला परिषद सदस्य विरजमणी देवी ने कहा कि महिलाएं घर-परिवार के साथ-साथ समाज और देश के विकास में भी महत्वपूर्ण योगदान दे रही हैं। उन्होंने महिलाओं को सशक्त बनाने पर जोर देते हुए महिला मंडलों द्वारा स्वच्छता के कार्यो को प्रसंशनीय बताया। उन्होंने समाज के विकास के लिए महिला उत्थान को जरूरी बताया। संबोधित करने वालों उपविकास आयुक्त दानियल कंडुलना, अपर समाहर्ता रणजीत कुमार सिन्हा, एसडीओ राज महेश्वरम, पेयजल एवं स्वच्छता प्रमंडल के कार्यपालक अभियंता रेयाज आलम, प्रखंड प्रमुख पहनु महतो आदि शामिल थे। इस अवसर पर स्वच्छता के क्षेत्र में बेहतर कार्य के लिए जिले के 43 महिलाएं व कस्तुरबा की बालिकाओं को माला पहनाकर व प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया गया। इस अवसर पर उपस्थित अधिकारियों, महिला मंडल सदस्यों ने जिले को खुले में शौचमुक्त करने व स्वच्छता को जीवन में उतारने की सपथ भी लिए। करतुबा बालिका विद्यालय की छात्राओं ने स्वच्छता पर आधारित नाटक भी प्रस्तुत कीं। कार्यक्रम का संचालन युनिसेफ के अधिकारी ने किया। मौके पर अंचलाधिकारी अनुराग तिवारी, बीडीओ गौतम कुमार भगत, कैरो बीडीओ सहित बड़ी संख्या में महिलाएं मोजूद थीं।

Leave a Reply