जीटीवी के कार्यक्रम 'Dance India Dance' की 'Super Mom' की दौड़ में है रोहतक की बेटी सुनीता राठी
Latest News Top News

जीटीवी के कार्यक्रम ‘Dance India Dance’ की ‘Super Mom’ की दौड़ में है रोहतक की बेटी सुनीता राठी

जीटीवी के कार्यक्रम 'Dance India Dance' की 'Super Mom' की दौड़ में है रोहतक की बेटी सुनीता राठीफरीदाबाद, 17 फरवरी  2015 ::  ज़ी टी वी पर चलने वाले कार्यक्रम में सुपर मोम की दौड़ में है सुनीता राठी। फरीदाबाद में रह रही रोहतक की बेटी सुनीता राठी जीटीवी के कार्यक्रम डांस इंडिया डांस के सुपर मॉम के चार राउंड के मुकाबले पार कर चुकी हैं। सुनीता रोहतक के गांव गडौठी में पली-पढ़ी है जो अब सुपर मोम की दौड़ में ऊंचाइयों की बुलंदियां छू रही हैं। 16 सुपर मॉम की सूची में नाम शामिल करने के लिए सुनीता हर रोज दो घंटे की मेहनत करती है । सुनीता अपने इस सपने को साकार करने के लिए अकेले ही जी तोड़ मेहनत कर रही है उनका एक बेटा है और वह अपने पति से कई सालो से अलग रहती है । उन्हें पूरा भरोषा है की वह सुपर मोम कम्पटीसन जरूर जीतेंगी और अपना और हरियाणा का नाम जरूर रौशन करेंगी ।जीटीवी के कार्यक्रम 'Dance India Dance' की 'Super Mom' की दौड़ में है रोहतक की बेटी सुनीता राठीअपने बेटे के साथ खेल कूद कर तो कभी उसके साथ कंप्यूटर पर समय बिताती दिखाई दे रही यह वाही सुपर मोम सुनीता राठी है जो मूल रूप से तो रोहतक जिले की रहने वाली है लेकिन फिलहाल वह अब फरीदाबाद के सेक्टर-16ए में रहती है सुनीता ग्रेटर फरीदाबाद के मॉडर्न डीपीएस में शारीरिक शिक्षक हैं। 38 वर्षीय सुनीता की प्रारम्भिक शिक्षा रोहतक के सैनी कन्या हाई स्कूल और स्नातक की पढ़ाई चंडीगढ़ से हुई थी। सुनीता को बचपन से ही जिमनास्टिक करने का शौक था। अपने इस शौक को पूरा करने के लिए सुनीता ने कोच राजेंद्र खुराना से टिप्स लिए। सुनीता ने कठोर परिश्रम के दम पर राष्ट्रीय स्तर तक अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाया है । सुनीता ने इस खेल में कामयाबी की बुलंदियों को छुआ है । सुनीता को चार बार राष्ट्रीय स्तर पर प्रदर्शन करने का मौका मिला तो वे उसमें सफल भी हुई। सुनीता ने बेहतर प्रदर्शन कर दो बार राष्ट्रीय स्तर पर रजत पदक पर कब्जा जमाया। लेकिन उन्होंने कभी भी नहीं सोचा था कि जिस जिमनास्टिक को वह सीख रही है एक दिन उसके ही बदौलत वह डांस इंडिया डांस के सुपर मॉम कार्यक्रम में शामिल होंगी। सुनीता राठी का कहना है की मेरी सहेली ने मुझे जिमनास्टिक करते देखा था जिसने मुझे डांस इंडिया डांस में जाने के लिए प्रोत्साहित किया जिसके लिए में अपनी सहेली का धन्यवाद करती हूँ और जिमनास्टिक के दम पर ही में चार राउंड के मुकाबले पार कर चुकी हूँ । आज के समय में जो डांस हो रहा है, वह जिमनास्टिक की तरह है जिस तरह जिमनास्टिक में स्टंट मारना और कलाबाजी करना होता है, उसी तरह डांस में आज कलाबाजी ही रह गई है।
सुनीता राठी के 13 साल के बेटे विशेष बल्हारा सातवीं कक्षा का छात्र है जो अपनी मोम के इस विजय से काफी खुश है और वह अपनी मोम को अपने लिए सुपर मोम कहते है क्योकि उनकी मोम उनकी हर इच्छा को पूरा करती है ।
डांस इंडिया डांस के सुपर मॉम कार्यक्रम में देश की 80 महिलाओं ने हिस्सा लिया है । इन महिलाओं में आगे निकलने के लिए प्रतिस्पर्धा चल रही हैं, जिनमें से 16 श्रेष्ठ मां चुनने के बाद पांच मां का चयन होगा। इनमें से एक मां को सुपर मॉम के ख़िताब से नवाजा जाएगा।

Report & photograph by Naresh Narula, Faridabad.

Leave a Reply