Latest News

लोहरदगा में मना प्रेस दिवस

लोहरदगा, 18 नवम्बर 2011 :: सूचना एवं जनसंपर्क विभाग लोहरदगा में प्रेस दिवस पर मीडिया जनता के प्रति जवाबदेह का साधन’ विषय पर  परिचर्चा  कि गयी, जिसमे  जिले के प्रिंट व इलेक्ट्रोनिक मीडिया के पत्रकार और आला अधिकारियों ने भाग लिया. अपर समाहर्ता ए के चौधरी ने कहा कि वर्त्तमान परिप्रेक्ष्य में  मीडिया अपनी जवाबदेही शत प्रतिशत निभा रहा है. डीडीसी श्रवण साय ने कहा कि जनता कि बातें सरकार तक और सरकार कि बाते जनता तक पहुँचाने का सबसे शसक्त माध्यम मीडिया है. मीडियाकर्मी अपनी जान हथेली पर लेकर सूचनाएं एकत्रित करते हैं और हमें परोसते हैं. सचमुच पत्रकार बधाई के पात्र हैं. झारखण्ड यूनियन ऑफ़ जर्नलिस्ट प्रदेश सहसचिव बलदेव शर्मा ने कहा कि पिछले २०० सालों से पत्रकारों ने खून पसीने से पत्रकारिता कों सींचकर इस मुकाम तक पहुँचाया है, लोगों की मानसिकता और चेतना कों बढाया है. झारखण्ड यूनियन ऑफ़ जर्नलिस्ट सह प्रेस कलब के कार्यालय सचिव कयूम खान ने कहा कि ‘हम  न सफेदी के हैं दुश्मन, न  स्याही के दोस्त, आयना दिखाना है दिखा देते हैं’. झारखण्ड यूनियन ऑफ़ जर्नलिस्ट सह प्रेस कलब के जिलाध्यक्ष दीपक मुखर्जी ने कहा कि विकत परस्थितियों में भी मीडिया अपनी जवाबदेही निभाती रही है, लेकिन कहीं न कहीं मीडिया कों लोग हथियार की तरह इस्तमाल करते हैं. जिला अवर निबंधक सुभाष दत्ता ने  परिचर्चा में कहा कि वर्त्तमान परिप्रेक्ष्य में विश्व एक गाँव कि तरह हो गया है, जिससे मीडिया कि जवाबदेही बढ़ गयी है.  विभिन्न चैनलों के जरिये  कुछ ऐसे अन्धविश्वास भी परोसे जाते हैं जो सत्य से परे होते हैं, मीडिया कों  उचित समीक्षा कर आलोचन करनी चाहिए.लेकिन उनहोंने यह भी कहा कि पत्रकारों कों सैनिकों कि तरह सम्मान मिलनी चाहिए. जिला कार्यपालक दंडाधिकारी सह मनरेगा के नोडल पदाधिकारी चन्द्रभूषण प्रसाद ने कहा कि मीडिया व प्रशासन कों सकारात्मक सोच के साथ जनता के सरोकार व सामूहिकता कों प्राथमिकता देनी होगी. पत्रकार गौतम लेलिन, एस डी ओ जगत नारायण प्रसाद आदि ने भी परिचर्चा में भाग लिया. जिसकी अध्यक्ष्यता अपर समाहर्ता ए के चौधरी व मंच संचालन डीपीआरओ सुरेन्द्र कुमार वर्मा ने किया.

Leave a Reply