Sanjay Rathi
Latest News Top News

NUJ(I) की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक वाराणसी में सम्पन्न :: मीडियाकर्मियों पर हो रहे लगातार हमलों के मद्देनजर जर्नलिस्ट्स प्रोटेक्शन एक्ट बनवाने के लिये हरसम्भव प्रयास करने का संकल्प

Sanjay Rathiचंडीगढ़, जून 22, 2015 :: हरियाणा यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स का 12 सदस्यीय दल नेशनल यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स की वाराणसी में हुई दो दिवसीय राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में भाग लेकर लौट आया है।
यूनियन के प्रदेशाध्यक्ष एवं नेशनल यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स [ National Union of Journalists { NUJ(I) }] के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष संजय राठी ने बताया कि वाराणसी में यूनियन के राष्ट्रीय कार्यकारिणी में मीडियाकर्मियों के हितों एवं कल्याण में जुड़े मुद्दों पर गम्भीर चर्चा हुई। जिसमें विशेष रूप से मजिठिया वेज बोर्ड की सिफारिशों को लागू करने में प्रबन्धकों द्वारा की जा रही ढील पर गहरी चिन्ता प्रकट की गयी। इसके अलावा मीडियाकर्मियों पर हो रहे लगातार हमलों के मद्देनजर जर्नलिस्ट्स प्रोटेक्शन एक्ट बनवाने के लिये हरसम्भव प्रयास करने का संकल्प किया गया। इसके अलावा पेड न्यूज के बढ़ते प्रचलन पर भी सदन ने चिन्ता व्यक्त की। इसके साथ ही प्रैस कौंसिल ऑफ इंडिया को मीडिया कौंसिल बनाने के लिये केन्द्र सरकार को प्रस्ताव पारित कर भेजा जायेगा।
कार्यक्रम का उदघाटन अवसर पर उत्तर प्रदेश शासन के कैबिनेट मंत्री औमप्रकाश यादव, उत्तर प्रदेश सरकार के पर्यटन मंत्री औमप्रकाश सिंह, उर्वरक मंत्री पारस नाथ यादव, खाद्य मंत्री नारद राय, काशी हिन्दू विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर गिरीश चन्द्र त्रिपाठी तथा स्थानीय विधायक अजय राज ने शिरकत की। जबकि समापन सत्र में केन्द्रीय मंत्री कलराज मिश्र, तिब्बतीय अध्ययन विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. एल.एन. शास्त्री, वाराणसी विकास समिति के अध्यक्ष आर.के. चौधरी ने सम्बोधित किया।
हरियाणा यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स के अध्यक्ष एवं नेशनल यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष संजय राठी ने प्रदेश में मीडियाकर्मियों की स्थिति एवं प्रदत्त सुविधाओं की जानकारी दी। इसके अलावा प्रदेश में चल रहे सदस्यता अभियान तथा प्रादेशिक सम्मेलन की जानकारी प्रदान की। यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष उप्पला लक्ष्मण तथा महासचिव प्रसन्ना मोहन्ती ने भी अपने विचार रखे। इनके अलावा यूनियन के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राजेन्द्र प्रभु, डॉ. नंद किशोर त्रिखा, प्रैस कौंसिल ऑफ इंडिया के सदस्य एवं पूर्व अध्यक्ष प्रज्ञानन्द चौधरी, उपाध्यक्ष ललित शर्मा, दीपक राय, पूर्व महासचिव रास बिहारी, उपजा के अध्यक्ष रतन दीक्षित, महासचिव रमेश चन्द्र जैन, पूर्व महासचिव असीम मित्रा, पंजाब जर्नलिस्ट्स यूनियन के महासचिव आर.जी. रायकोटि, दिल्ली जर्नलिस्ट्स यूनियन के पूर्व अध्यक्ष मनोज वर्मा सहित अनेक नेताओं ने अपने विचार व्यक्त किये।

Leave a Reply