दैनिक राशिफल : दिनांक 11 अप्रैल  2017, दिन मंगलवार ::  ज्योतिष शास्त्री डॉ सुनील बर्मन ( स्वामी दिव्यानंद )

Sunil Burmanरांची, झारखण्ड । अप्रैल  | 11, 2017 :: ज्योतिष शास्त्री डॉ सुनील बर्मन ( स्वामी दिव्यानंद ) के अनुसार दैनिक राशिफल : दिनांक 11 अप्रैल  2017, दिन मंगलवार

मेष- शत्रु बाधा से मुक्ति मिलेगी, मांगलिक कार्य के पीछे खर्च होंगे, दिनचर्या अस्त ब्यस्त ब्यतित होगा,  प्रेम रोमांस के क्षेत्र में उन्नती है, ब्यापारिक क्षेत्र में चिंता रहेगी, बुद्धिमत्तापूर्ण निर्णय से शत्रु पराजित होगा।

वृष- अध्ययन के क्षेत्र में उन्नती होगी, लाभ एवं आय के मार्ग प्रशस्त होंगे, शत्रु बाधा के कारण परेशानी रहेगी, धनागम के नये मार्ग खुलेंगे, पराक्रम में कमी के कारण असफलता हाथ लगेगी, माताजी के स्वास्थ्य में ध्यान दे।

मिथुन- मकान जमीन के मामले में लाभ प्राप्त होगा, नौकरी में पदोन्नती होगी, पाचन तंत्र में गडबडी के कारण दिनचर्या में गडबडी रहेगी, आशातित लाभ में कमी के कारण मन खिन्न रहेगा, नये वाहन  के योग बनते हैं।

कर्क- भाईयों के सहयोग से सफलता मिलेगी, भाग्योन्नती के प्रबल अवसर हैं, आत्म विश्वास में कमी के कारण दिनचर्या मलीन रहेगा, सम्मान के साथ धनोपार्जन होगा, निर्माण कार्य में बाधा के योग बनते हैं।

सिंह- धनागम के मार्ग सुदृढ होंगे, आयुष्य लाभ होगा, कुटुंब का सहयोग मिलेगा, यश सम्मान की बिशेष बृद्धि होगी, अध्ययन के मार्ग में थोडी परेशानी के बाद सफलता मिलेगी, भग्योन्नती के मार्ग में अवरोध होगा।

कन्या- मनोबिनोदपूर्ण वातावरण बना रहेगा, दैनिक ब्यवसाय के क्षेत्र में लाभ मिलेगा, आपकी बुद्धिमत्तापूर्ण निर्णय की सभी प्रशंसा करेंगे, आय के क्षेत्र में आशातित लाभ खुशी प्रदान करेगा, दुर्घटना के प्रति सजग रहने की आवश्यकता है, नौकरी में पदोन्नती के योग हैं।

तुला- बाहरी स्थानों से लाभ प्राप्त होगा, ऋण भार से मुक्ति मिलेगी, पराक्रम में बिशेष उन्नती के योग बनते हैं, फिर भी अस्थ्रिता बनी रहेगी, दैनिक रोजगार के क्षेत्र में चिंता के आसार नजर आते हैं, भाईयों के साथ मौनरुप मंें बिरोध होगा।

बृषिचक- योजना सफलीभूत होंगी, संतान की उन्नती से मन गौरवान्वित होगा, आत्मविश्वास के साथ कार्य सम्पादित करने पर भी आशातित फल में कमी रहेगी, बिमारी के कारण त्रस्त रहेंगे, धार्मिक कार्य में बाधायें आयेंगी।

धनु- कर्म क्षेत्र में सम्मान की बृद्धि होगी, माता के द्वारा लाभ प्राप् होगा, मन में आध्यात्मिक्ता का भाव रहेगा, ब्यापार में भी लाभ की प्राप्ति होगी, पढाई के क्षेत्र में बाधाओं का सामना करना पडेगा, शारीरिक घात के योग बनते हैं।

मकर- आध्यात्मिक उन्नती के योग बनते हैं, पराक्रम के कारण सफलता मिलेगी, पत्नी को शारीरिक कष्ट के योग हैं ध्यान दें, विवेकपूर्ण निर्णय से शत्रु पर बिजय प्राप्त किया जा सकता है, घरेलू वातावरण  तनावपूर्ण रहेगा।

कुंभ- अचल संपती का लाभ मिलेगा, निवेष के क्षेत्र में लाभ मिलेगा, ब्यवसाय के क्षेत्र में सम्मान की बृद्धि होगी, शत्रु के द्वारा घात संभव है, पूरुषार्थ से भाग्योन्नती होगी, किये गये प्रयास में असफलता हाथ
लगेगी।

मीन- दाम्पत्य जीवन में प्रेम एवं सामंजस्य रहेगा, मन में प्रसन्नता का भाव रहेगा, संचित धन की हानी होगी, संतान को कष्ट का समय है, कर्म क्षेत्र में थोडी परेशानी आयेगी, गाडी घोडे से सावधान रहें।

——————————————————– ——
तिथी – पूर्णिमा दिवा 10.15 पर्यन्त, उपरान्त प्रतिपदा
पक्ष – शुक्ल

मास – चैत्र

विक्रम संवत – 2074

शकसंवत – 1939

नक्षत्र – चित्रा रात्री 04.20 पर्यन्त, उपरान्त स्वाती

दिशाशूल – उत्तर एंव वायब्य की यात्रा ना करें, आवश्यक हो,
तो गुड ग्रहण कर घर से निकलें,

राहूकाल – 03.00 से 09.30

चैघडिया मुहूर्त – चल — 09.50 से 11.30

लाभ — 11.31 से 01.11

अमृत — 01.12 से 02.52

शुभ — 04.30 से 06.12

जन्मदिन मंगलम- श् 2 श्

अंक ज्योतिष के अनुसार- स्वामी ‘‘ चन्द्र देव ‘‘ हैं।

शुभ व्यवसाय- तरल पदार्थ, पर्यटन, लेखन, सम्पादन, मूद्रण,
तैराकी, दूध, दही, चीनी मिल, कागज आदि।

शुभ दिन- सोमवार, रविवार, मंगलवार, गुरुवार।
शुभ मंत्र- ॐ चं चन्द्राय नमः।
देव- देवाधिदेव महादेव।
आज का व्रत त्योहार/खास- पूर्णिमा व्रत, श्री हनुमान जयंती।

डा. स्वामी दिब्यानन्द (डा. सुनिल बर्मन) 9431108333

Leave a Reply