दैनिक राशिफल : दिनांक 19 अप्रैल  2017, दिन बुधवार ::  ज्योतिष शास्त्री डॉ सुनील बर्मन ( स्वामी दिव्यानंद )

Sunil Burmanरांची, झारखण्ड । अप्रैल  | 19, 2017 :: ज्योतिष शास्त्री डॉ सुनील बर्मन ( स्वामी दिव्यानंद ) के अनुसार दैनिक राशिफल : दिनांक 19 अप्रैल  2017, दिन बुधवार

मेष- शत्रु पर बिजयश्री आपकी प्रतिक्षा कर रहा है, नौकरी में भी पदोन्नती की प्रबल आशा है, न्याय संगत बिन्दु पर आप शौर्य का भी उपयोग करेंगे पर विवेक का ख्याल अवश्य रखें।

वृष- पति पत्नी के संबधों में प्रगाढता की बृद्धि होगी, आयुष्य लाभ होंगे, आध्यात्मिक उन्नती के योग बनते हैं, भाईयों के साथ संबध बनाये रखना सर्वदा लाभकारी ही रहेगा।

मिथुन- मन आनन्द से ओतप्रोत रहेगा, ब्यापार में आशातित लाभ प्राप्त होगा, पर संचित धन की हानी होना संभव जान पडता है, वाहनादि के लाभ आपकी उत्सुकता को प्रगाढ करेगी।

कर्क- मन में जोश की बृद्धि होगी पर मन में उलझनों के बादल भी मंडराते रहेंगे, दैनिक ब्यवसाय के मामले में जबरजस्त लाभ प्राप्त होंगे।

सिंह- पैत्रिक संपती के लाभ प्राप्ति के मार्ग खुल चुके हैं अब आगे की नीति तय कर लें विलंब ना हो जाये, अनावश्यक खर्च पर नियंत्रण आवश्यक है।

कन्या- धार्मिक यात्रा के योग बनते हैं पर मार्ग में थोडी परेशानी भी होंगे जिसकी तैयारी यथासंभव कर ली जानी चाहिये, प्रेम प्रसंग के संबधों में और भी प्रगाढता बढेगी।

तुला- मन में चिन्ताओं के घने बादल रहेंगे फिर भी आन्तरिक बल के कारण स्वंय को ब्यवस्थित कर लेंगे, नये जमीन मकान के आगमन की पृष्ठभूमी तैयार है बस आगे बढें।

बृषिचक- मान सम्मान में चार चांद लगने वाले हैं आपको स्ंवय को सरल एवं सहज बनाये रखें, पराक्रम के  कारण आप कुछ और भी प्राप्त कर सकते हैं पुरुषार्थ जारी रखें।

धनु- बुद्धि विवेक के कारण आप यश और सफलता को प्राप्त कर सकते हैं आगे बढें, दुर्घटनाओं के प्रति आप सावधान अवश्य रहें, ’ओम कें केतवे नमः’ के जाप से रक्षा होगी।

मकर- आपके अंदर जोश एवं होश का अच्छा संतुलन बरकरार रहेगा, पर गुप्त शत्रु अपने लक्ष्य की ओर तत्पर रहेंगे आप सावधान रहें।

कुंभ- मन में आध्यात्मिकता का खुमार सवार रहेगा बस आप ईसका आनन्द लेते रहें, निष्काम प्रेम आपको आननद की ओर अग्रसर करेगा, श्रीहरी के स्मरण में लगे रहें।

मीन- अपने कारबार के प्रति बिशेष ततपरता की आवश्यकता है, अतिथी सत्कार थोडा भारी लगने लगेगा  जब वे थोडा ज्यादा जमने लग जायेंगे, माता पिता का चरण स्पर्श कर दिनचर्या का प्रारंभ करें।

———————————————-

तिथी – अष्टमी रात्री 11.35 पर्यन्त, उपरान्त नवमी
पक्ष – कृष्ण

मास – वैशाख

विक्रम संवत – 2074

शकसंवत – 1939

नक्षत्र – उत्तराषाढ दिवा 06.42 पर्यन्त, उपरान्त श्रवण

दिशाशूल – उत्तर एंव ईशान की यात्रा ना करें, आवश्यक हो,
तो धनिया ग्रहण कर घर से निकलें,

राहूकाल – 12.00 से 01.30

चैघडिया मुहूर्त – लाभ — 06.14 से 07.58

अमृत — 07.59 से 09.42

शुभ — 11.26 से 01.10

चल — 04.36 से 06.20

जन्मदिन मंगलम- श् 1 श्

अंक ज्योतिष के अनुसार- स्वामी ‘‘ सूर्य देव ‘‘ हैं।

शुभ व्यवसाय- सरकारी पदाधिकारी, आभूषण,
अग्नि की सेवा, प्रशासन आदि।

शुभ दिन- रविवार, मंगलवार, सोमवार, गुरुवार।
शुभ रंग- लाल, सफेद, पीला, सुनहरा।
शुभ मंत्र- ॐ सूं सूर्याय नमः।
आज का व्रत त्योहार/खास- श्री शीतलाष्टमी व्रत।

डा. स्वामी दिब्यानन्द (डा. सुनिल बर्मन) 9431108333

Leave a Reply