Latest News Top News

मंगलवार 28 मार्च को मनाएं हिन्दी नववर्ष :: ड़ा. स्वामी दिव्यानंद (ड़ा. सुनील बर्मन) [ महामंत्री, झारखण्ड राज्य सन्त समाज ]

रांची, झारखण्ड ।  मार्च | 25, 2017 :: आगामी मंगलवार दि. 28 मार्च को हिन्दी नववर्ष (2074) है, इस वर्ष अत्यंत ही बिशेष है – एक तो मंगलवार का दिन, दूसरा रामनवमी की मंगलवारी, तीसरा रामनवमी की आगाज, चौथा नवरात्र और नव वर्ष तो है ही, इतने शुभ संयोगों का समावेश है, इसे हृदय के अन्तःकरण से उत्सव को मना कर पुण्य बटोरा जा सकता है.

कैसे मनाएं

प्रातः उठकर स्नानादि से निवृत होकर, नये या साफ सुथरे वस्त्र धारण कर, पूजा पाठ करे के मंदिर जाएं, बड़ों का आशीर्वाद प्राप्त करें, घरों के सामने दीप प्रज्वलित करें, भगवा ध्वज लगाएं, वंदनवार एवं रंगोली से घर की सुसज्जित करें, शुद्ध सात्विक भोजन ब्यजंन का आनन्द लें.

आज संकट मोचन मंदिर, मेन रोड, रांची में झारखण्ड राज्य सन्त समाज के तत्वाधान में एक बैठक आहूत की गई, जिसमे ड़ा. स्वामी दिव्यानंद (ड़ा. सुनील बर्मन) [ महामंत्री, झारखण्ड राज्य सन्त समाज ] की उपतोक्त बातों को सभी ने समर्थन कर, सभी सनातन धर्मावलम्बियों से नववर्ष को उत्सुकतापूर्वक मनाने की अपील की गई,
बैठक की अध्यक्षता महामण्डलेश्वर सन्त त्यागी बाबा ने की, जब की मंच संचालन स्वमी दिव्यानंद(ड़ा. सुनील बर्मन) ने की, मुख्य रुप से बाबा ज्योति स्वरूप, संत भरत दास जी, स्वामी कृष्ण चैतन्य ब्रम्हचारी, सन्यासी मुक्तरथ, स्वामी दिव्यज्ञान, सुरेंद्र बाबा के अलावे अनेक साधु-सन्त उपस्थित थे, सभी ने अपने अपने विचार रखे।

Leave a Reply