Photography Workshop :: Fifth Day
Latest News Top News

फोटोग्राफी कार्यशाला ::  पाँचवा दिन

Photography Workshop :: Fifth Dayराँची, | झारखंड | जून | 09, 2016 :: झारखंड सरकार के पर्यटन, कला-संस्कृति, खेलकूद एवं युवाकार्य विभाग (सांस्कृतिक कार्य निदेशालय) के तत्वावधान में आयोजित प्रथम दस दिवसीय फोटोग्राफी कार्यशाला में आज पोट्रेट, लैंडस्केप, प्रेस फोटोग्राफी और फोटोग्राफिक कम्पोजिशन की जानकारी प्रतिभागियों को दी गई।

आज की पहली कक्षा में राँची के चर्चित कलाकार सह फोटोग्राफर सुबोध कुमार ने पोट्रेट खींचने की कला के बारे में विस्तार से समझाया। उन्होंने बताया कि पोट्रेट फोटोग्राफी करते समय कैमरा एंगल, लाईट, बैकग्राउंड के साथ व्यक्ति के पोस्चर एवं भाव का भी ख्याल रखा जाता है। चेहरे की बनावट के अनुरूप ही कैमरा एंगल तथा लाईट सेट की जाती है।

दूसरी कक्षा में संदीप नाग ने प्रेस फोटोग्राफी की बारीकियों को समझाया। प्रेस के लिये फोटोग्राफी करते वक्त विषय का ध्यान रखना सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण होता है। फोटोग्राफर के प्रेजेन्स आॅफ माइन्ड पर भी प्रेस फोटोग्राफी निर्भर है। इस तरह की फोटोग्राफी में समय बहुत ही महत्त्वपूर्ण होता है। एक सेकेण्ड के हेर फेर से ही विषय बदल जाते हैं। प्रेस के लिये फोटोग्राफी करते समय फोटोग्राफर को चैकन्ना और एलर्ट रहना पड़ता है।

आज की तीसरी कक्षा में लेंसआई न्यूज पोर्टल के जगदीश सिंह  ने पावर प्वाईंट प्रेजेन्टेशन और तस्वीरों के माध्यम से फोटोग्राफिक कम्पोजिशन के बारे में प्रतिभागियों को बताया साथ ही साथ कुछ जरूरी फोटोग्राफी टिप्स भी दिए।

प्रतिभागियों ने विशेषज्ञों से तरह तरह के सवाल पूछे और अपनी फोटोग्राफी से संबंधित जिज्ञासा को शांत किया।

कल भुवनेश्वर, उड़ीसा से आ रहे बिरेन पटनायक डेफ्थ आॅफ फिल्ड तथा पटना के अशोक कर्ण प्रतिभागियों को आउटडोर फोटोग्राफी की बारीकियों के बारे में बतायेंगे।

 

Leave a Reply