डायन प्रथा उन्मूलन अभियान प्रचार रथ रवाना
Latest News Top News

डायन प्रथा उन्मूलन अभियान प्रचार रथ रवाना

डायन प्रथा उन्मूलन अभियान प्रचार रथ रवानाराॅची, झारखण्ड | अगस्त | बुधवार | 26, 2015 :: झारखण्ड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने महिला बाल विकास एवं सामाजिक सुरक्षा विभाग की ओर से डायन प्रथा उन्मूलन से संबंधित जागरूकता रथो को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। पाॅच जिलों के लिए राॅची, खुॅटी, सिमडेगा, गुमला, तथा लोहरदगा में जागरूकता रथ डायन प्रथा उन्मूलन से संबंधित पाॅच रथों को एक साथ रवाना किया गया। राॅची जिले का रथ 26 अगस्त से 4 सितम्बर तक सभी प्रखण्डों का तथा हाट बाजार में प्रचार प्रसार का कार्य करेगा। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने डायन प्रथा से संबंधित सीडी का विमोचन भी किया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा कि आये दिन डायन कहकर महिलाओं की हत्या कर दी जाती है। एक सभ्य समाज के लिए इस तरह की घटना कलंक है। विगत दिनों में जो घटनाएॅ मांडर में घटी ऐसी घटनाओं की रोकथाम के लिए समाज के सभी लोगों के सहयोग की आवष्यकता है। यह एक ऐसी प्रथा है जिसमें बेगुनाहो की हत्या कर दी जाती है। इसलिए डायन प्रथा उन्मूलन के लिए जन जागरूकता अभियान चलाना अत्यावष्यक है। जागरूकता के अभाव में इस तरह की घटनाएॅ घटित होती है। जनता जागरूक हो एवं तंत्र मंत्र, अंधविश्वास का जड़ समाप्त हो । इस दिषा में यह एक कदम है। टीवी एवं अखबारों के माध्यम से भी प्रचार होनी चाहिए। आॅगनबाड़ी सेविका, सहायिका तथा स्वयं सहायता समूह के सहयोग से भी समाज के लोगों के बीच डायन प्रथा जैसी कुरीतियों को समूल नष्ट किया जा सकता है। गाॅवों में चिकित्सा व्यवस्था सुदृढ़ होने से भी ऐसी घटनाएॅ नहीं होगीं। आप सभी के प्रयास से ऐसी घटनाओं को होने से रोका जा सकता है। रथ रवाना के पूर्व डायन प्रथा उन्मूलन पर एक नुक्कड़ नाटक भारतीय लोक कल्याण संस्थान के कलाकारों के द्वारा प्रदर्षित किया गया।

इस अवसर पर महिला बाल विकास एवं समाजिक सुरक्षा विभाग के सचिव विनय कुमार चौबे , उपायुक्त राॅची मनोज कुमार, सहित विभाग के पदाधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply