Lens Eye - News Portal - पत्रकारिता चुनौतिपूर्ण, रोमांचक एवं नवीनतायुक्त व्यवसाय है :: संजय राठी [ राष्ट्रीय सचिव, नेशनल यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स ]
Latest News Top News

पत्रकारिता चुनौतिपूर्ण, रोमांचक एवं नवीनतायुक्त व्यवसाय है :: संजय राठी [ राष्ट्रीय सचिव, नेशनल यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स ]

Lens Eye - News Portal - पत्रकारिता चुनौतिपूर्ण, रोमांचक एवं नवीनतायुक्त व्यवसाय है :: संजय राठी [ राष्ट्रीय सचिव, नेशनल यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स ]    रोहतक, [ हरियाणा ] 8 जून 2013 ::  पत्रकारिता चुनौतिपूर्ण, रोमांचक एवं नवीनतायुक्त व्यवसाय है। जिसके लिये संवेदनशीलता एवं मानवीयता सरीखे गुण मीडियाकर्मी के व्यक्तित्व में समाहित होने चाहिये। इसके अलावा सक्रियता व जिज्ञासा मीडियाकर्मी के आवश्यक गुण हैं।

          उक्त विचार नेशनल यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स के राष्ट्रीय सचिव संजय राठी ने पत्रकारिता में कैरियर विषय पर आकाशवाणी से सीधे प्रसारण के दौरान सम्बोधित करते हुए व्यक्त किए। उन्होंने कहा कि पत्रकारिता में संवाद कौशल एवं भाषायी दक्षता सर्वाधिक महत्वपूर्ण तत्त्व हैं। इस क्षेत्र के तेजी से विस्तार हो रहा है, पूरी दुनिया में रोजगार के उद्देश्य से शानदार कैरियर की भरपूर संभावनाएं हैं।

          राष्ट्रीय सचिव संजय राठी ने कहा कि संचार क्रान्ति का मीडिया के विस्तार में महत्वपूर्ण योगदान है। पत्रकारिता को कम्प्यूटर और इंटरनेट ने बेहद गतिमान कर दिया है। पत्रकारों को कम्प्यूटर और अंग्रेजी भाषा का अच्छा ज्ञान होना जरूरी हो गया है। तभी वे इस क्षेत्र में अच्छा प्रदर्शन कर सकेंगे। फिलहाल लगभग सभी विश्वविद्यालयों में पत्रकारिता और जनसंचार को स्नातक एवं स्नातकोत्तर स्तर पर पढ़ाया जा रहा है। इसके अलावा महाविद्यालयों में भी अन्डर ग्रेजुएट कोर्सिस चलाए जा रहे हैं।

          संजय राठी ने कहा कि पत्रकारिता सम्मानजनक व्यवसाय के रूप में जाना जाता है। लेकिन आप में ईमानदारी, साहस एवं निष्पक्ष रहकर कार्य करने का जज्बा होना चाहिये। जब सत्य और तथ्य के साथ ही पत्रकारिता के क्षेत्र में आप अपनी पहचान बना सकते हैं। रेडियो, टेलीविजन, समाचार पत्र एवं वेब जर्नलिस्ट्स ने पत्रकारिता को और व्यापक विस्तार प्रदान किया है। शिक्षण संस्थाओं, बड़े औद्योगिक संस्थान एवं सरकारी विभागों में जनसम्पर्क अधिकारी के रूप में रोजगार के अब अवसर हैं।

          एन.यू.जे. राष्ट्रीय सचिव संजय राठी ने आगे अपने सम्बोधन में कहा कि हरियाणा सरकार पत्रकारिता एवं जनसंचार को स्कूली स्तर तक पाठ्यक्रम में शामिल करने पर विचार कर रही है। इससे इस क्षेत्र में रोजगार के और अधिक अवसर उपलब्ध हो सकेंगे। इसके अलावा विद्यार्थियों में संवाद कौशल, आत्मविश्वास एवं भाषायी दक्षता में भी बढ़ोतरी होगी।

Leave a Reply