Lens Eye - News Portal - V.S. Sampath[Chief Election Commissioner of Election Commission of India] arrives in Ranchi
Latest News Top News

हरियाणा यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स का चुनाव एवं प्रादेशिक अधिवेशन नवंबर माह में फरीदाबाद में : संजय राठी [प्रदेशाध्यक्ष ]

Lens Eye - News Portal - V.S. Sampath[Chief Election Commissioner of Election Commission of India] arrives in Ranchiविजयवाड़ा, आंध्र प्रदेश 21 जुलाई 2014 :: हरियाणा यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स का चुनाव एवं प्रादेशिक अधिवेशन नवंबर माह में फरीदाबाद में आयोजित किया जाएगा। यह जानकारी यूनियन के प्रदेशाध्यक्ष एवं नेशनल यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स के उपाध्यक्ष संजय राठी ने हाईलैंड रिसोर्ट विजयवाड़ा, आंध्रप्रदेश में आयोजित दो दिवसीय राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में दी।
संजय राठी ने कहा कि हरियाणा सरकार ने मीडियाकर्मियों के लिए हरियाणा आवास बोर्ड के मकानों मंे डेढ़ प्रतिशत मकान आरक्षित कर रखे हैं, लेकिन इस योजना का लाभ किसी भी पत्रकार को नहीं मिला है। इसके अलावा मात्र 50 लाख रूपए की राशि पत्रकार कल्याण कोष के लिए आवंटित है, जो कि बेहद ही कम है। एचयूजे प्रदेशाध्यक्ष ने कहा कि हाल ही में घोषित पेंशन स्कीम त्रुटिपूर्ण है, जिसमें 20 वर्ष तक सरकारी मान्यता प्राप्त पत्रकार ही पेंशन के पात्र होंगे। यह पूर्णतय अव्यवहारिक एवं भ्रामक योजना है। इसके साथ ही पत्रकारों के लिए सामूहिक दुर्घटना बीमा राशि 5 लाख रूपए कर दी गई है, जिसके तहत मात्र 15 प्रतिशत मान्यता प्राप्त पत्रकार ही कवर किए गए हैं। जबकि बाकी पत्रकार इस योजना के तहत अपात्र होंगे।
राठी ने अपने संबोधन में कहा कि प्रदेश सरकार के असहयोगपूर्ण एवं उपेक्षित रवैये के चलते पिछले एक वर्ष से भी अधिक समय से रोहतक मीडिया सेंटर नहीं चल पा रहा है। इसके अलावा नूंह में स्थापित मीडिया सेंटर भी शुरू नहीं किया जा सका है। हयूज प्रदेशाध्यक्ष ने कहा कि प्रदेश में हरियाणा यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स के नाम से चल रहे फर्जी संगठन के पदाधिकारियों को कानूनी नोटिस दिया जा चुका है। जल्द ही आगे की कानूनी प्रक्रिया अमल में लाई जाएगी। इस संगठन के खिलाफ कई बार सरकार को भी अवगत करवाया जा चुका है। लेकिन कोई प्रभावी कार्रवाई नहीं हुई।
संजय राठी ने बताया कि प्रदेश के सभी पत्रकार संगठनों ने मिलकर मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा को 22 सूत्री संयुक्त मांग पत्र विगत 17 अप्रैल 2013 को दिया था। इस मांग पत्र पर सरकार के उच्च अधिकारियों के साथ बैठक में 16 मांगों पर सहमति बनी थी। इन मांगों की घोषणा करवाने के लिए 25 जून 2014 को सभी यूनियनों का एक संयुक्त प्रतिनिधिमंडल दिल्ली में मिला। लेकिन सरकार की ओर से कोई प्रभावी कार्यवाही अभी तक नहीं की हुई है। उन्होंने चेतावनी दी कि अगर सरकार ने अपना रवैया नहीं बदला तो उन्हें आंदोलन के लिए बाध्य होना पड़ेगा। राष्ट्रीय कार्यकारिणी की इस दो दिवसीय बैठक में देश भर से 150 पत्रकार भाग ले रहे हैं। हरियाणा से राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य संदीप मलिक, सुरेंद्र दुआ, अजय भाटिया और विपुल कौशिक भाग ले रहे हैं।

Leave a Reply