Governor of Jharkhand, Draupadi Murmu will inaugurate All India Commerce Conference at Vinoba Bhave University, Hazaribagh on 6th of November 2015.
Top News

Governor of Jharkhand, Draupadi Murmu will inaugurate All India Commerce Conference at Vinoba Bhave University, Hazaribagh on 6th of November 2015.


Governor of Jharkhand, Draupadi Murmu will inaugurate All India Commerce Conference at Vinoba Bhave University, Hazaribagh on 6th of November 2015.Jharkhand | November | Wednesday | 04, 2015 ::
Governor of Jharkhand, Draupadi Murmu will inaugurate All India Commerce Conference at Vinoba Bhave University, Hazaribagh on 6th of November 2015.
Confrence will conclude on 8th of November.

The Human Resource Development minister of Jharkhand Neera Yadav will be the guest of honor of the inauguration ceremony.

In this All India Commerce Conference more than 800 delegates from all over India are going to participate in this three day long program. Besides this the office bearers of the association will also arrive here because as per the rules of the association election/selection of new office bearers will also take place during this three day long conference.

Preparations are going on at full swing in VBU to make this conference successful. Arrangements to bring them Hazaribagh from Ranchi and nearby railway stations have also been made. The conference halls of VBU are ready to accommodate the delegates coming from entire country.

Dr Gurdeep Singh, Vice Chancellor, VBU said that the conference will be highly informative and of academic importance of national level and international standard. With the wider topics including Behavioral Finance: Emerging Dimensions, E-retailing: Challenges & Opportunities in Global Scenario, Social Media: HR Interventions, Skill Development in Business Education, the forthcoming conference to be discussed during the conference, will pave the path for the economically strong nation. Participation from the academia and different industries would make the event an amalgamation of academic knowledge and practical experience.

Prof M.K Singh Conference Secretary, VBU, Hazaribag said that “The Indian Commerce Association (ICA) one of the oldest professional bodies founded in the year 1947, stands as the cohesive group of economists, management experts, technologists, business community, and so on, with multifaceted objectives to serve continually as a forum of exchange of experiences, ideas, collection along with dissemination of the information on trade, business, commerce and management; for promoting research activities and to permit coordination in the curriculum of Commerce and Management at the national level”.

The conference will be attended by renowned Commerce Academicians, Economists, Management Experts, Government Representatives, Industrialists, researchers working in Behavioural Finance, E-retailing, Social Media, Skill Development in Business Education and Undergraduate, post graduate and students from across the country and abroad. Representatives from different industries including ISDC (International Skill Development Corporation), London (UK) will attend the panel discussion on ‘‘Skill for tomorrow-Re-define in the Commerce Education’’.

इंडियन कॉमर्स एसोसिएशन के 68 वें वार्षिकोत्सव की मेज़बानी करेगा विनोबा भावे विश्वविद्यालय

6 से 8 नवंबर को होने वाले 68 वें इंडियन कॉमर्स एसोसिएशन के वार्षिक सम्मलेन की मेज़बानी विनोबा भावे विश्वविद्यालय करेगा। विशिष्ट अतिथि के तौर पर राज्य के वित्त मंत्री श्री जयंत सिन्हा उपस्थित होंगे

तथा राज्यपाल सहकुलाधिपति श्रीमती द्रौपदी मुर्मू कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में अपनी उपस्थिति दर्ज कराएंगी। मानव संसाधन विकास मंत्री डॉ नीरा यादव भी कार्यक्रम में सम्मानीय अतिथि के रूम मे मौजूद होगी।

“मेक इन इंडिया, द रोड अहेड” सम्मलेन की यह थीम माननीय प्रधान मंत्री के मेक इन इंडिया थीम पर आधारित है। यह एक अंतराष्ट्रीय स्तर का अकादमीक कार्यक्रम होगा। जिसमे पुरे देश व विदेश से वाणिज्य शिक्षाविद, शोध छात्र, अर्थशास्त्री, प्रबंधन विशेषज्ञ और सरकारी प्रतिनिधि शामिल होंगे। विभिन्न उद्योगों के प्रतिनिधि भी कार्यक्रम में मौजूद होंगे। इनमे से लंदन (यू.के) की इंटरनेशनल स्किल डेवलपमेंट कारपोरेशन, (आई.एस.डी.सी) “स्किल फॉर टुमॉरो री डिफाइन इन द कॉमर्स एजुकेशन” विषय पर चर्चा करेगी। राज्य के वित्त मंत्री ने पहले ही इस कार्यक्रम को पूर्ण समर्थन देने की बात कही है। यह कार्यक्रम भारत का अपने आप में एक व्यापक समरोह है।

इंडियन कॉमर्स एसोसिएशन भारत की पुरानी व्यवसायी संस्थाओं में से एक है। जो सन् 1947 में स्थापित की गई थी। अर्थशास्त्रियों, प्रबंधन विशेषज्ञो, व्यवसायी समुदाय जैसे लोग इस संस्था से जुड़े है। जिनका मुख्य उद्देश्य विभिन्न क्षेत्र में एक फोरम के रूप में लगातार सेवा प्रदान है। इस फोरम में अनुभवों के आदान प्रदान से लेकर लेन- देन, व्यवसाय, वाणिज्य और प्रबंधन जैसे क्षेत्र में सूचना का प्रसार और राष्ट्रीय स्तर पर वाणिज्य एवं प्रबंधन में शोध की गतिविधियों को बढ़ावा देना है।

सेमिनार आयोजित करना, कार्यशाला का आयोजन, सम्मेलम और अधिवेशन का आयोजन, शोध को बढ़ावा देना, किताबों, पत्र- पत्रिकाओं व जर्नल का प्रकाशन यह इंडियन कॉमर्स एसोसिएशन (आई सी ऐ) संस्थान की प्रमुख गतिविधियाँ है। आई सी ऐ ने शुरुआत से लेकर आज तक 67 सफल सम्मलेन आयोजित किये है। झारखण्ड राज्य के हजारीबाग के प्रतिष्ठित विनोबा भावे विश्वविद्यालय में 68 वां वार्षिक अधिवेशन आयोजित होगा। विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ गुरमीत सिंह, यशवंत सिन्हा कार्यक्रम के मुख्य सहायक, सम्मलेन के सचिव डॉ एम.के सिंह, व उनका समूह और उनके सहयोगी कार्यक्रम को बेहतर बनाने के लिए दिन रात मेहनत कर रहे है।

सम्मलेन सचिव, प्रोफेसर एम.पी सिंह ने बताया , “यह सभा शैक्षणिक दृष्टि से राष्ट्रीय स्तर पर अपना एक अलग महत्व रखती है। साथ ही यह सूचनाप्रद भी होगी। व्यवहारिक वित्त के उभरते आयाम, वैश्विक परिदृश्य में इ-रिटेलिंग की चुनौतियाँ और अवसर और सोशल मीडिया में मानव संसाधन और हस्तक्षेप, व्यवसायीक शिक्षा में कौशल विकास जैसे कई व्यापक विषयों पर इस सम्मलेन में चर्चा होगी। कार्यक्रम में विभिन्न क्षेत्रों के विषज्ञों की सहभागिता से सभी को शैक्षणिक ज्ञान और व्यवहारिक अनुभव मिलेगा”

Leave a Reply