Latest News

पत्रकारों की समस्याओं का समाधान करेगी प्रदेश सरकारः श्रम मंत्री डा.वकार अहमद शाह

 

लखनऊ, 02 मई 2012 :: प्रदेश सरकार पत्रकारों की सभी  समस्याओं का शीघ्र समाधान करेगी। मांगों पर सहानुभूति  पूर्वक विचार किया जाएगा। यह आश्वासन मई दिवस समारोह में प्रदेश के श्रम मंत्री डा.वकार अहमद शाह ने दिया। डा.शाह समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में विचार व्यक्त कर रहे थे।

डा.शाह ने कहा कि आज समारोह में उन्हें जो पत्रकारों की और से मांग पत्र दिया गया है। उसे प्रदेश के मुख्यमंत्री के सम्मुख प्रस्तुत करके सभी मांगों पर विचार किया जाएगा तथा मागों को स्वीकृत कराने का  प्रयास किया जाएगा। समारोह के विशिष्ट अतिथि विधान परिषद् सदस्य समाजवादी पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता राजेन्द्र चैधरी ने कहा कि पत्रकारिता जोखिम रा क्षेत्र है। पत्रकार खतरे मोल लेकर मिशन में जुटे हुए हैं। पत्रकारों की लेखनी समाज को दिशा दे सकती है। लोकतंत्र को जीवित रखने में पत्रकारिता का बड़ा योगदान है। क्योंकि लोकतंत्र समाज और जीवन में ी महत्वपूर्ण स्थान रखता है। लेकिन इस पेशे को स्वार्थी तत्वों से बचाकर रखना होगा। पत्रकारों को अन्याय, विषमता के खिलाफ संघर्ष करना पड़ता है। लोकतांत्रिक मूल्यों को जीवित रखने की ी उनपर बड़ी जिम्मेदारी है। उन्होंने पत्रकारों की समस्याओं पर प्रदेश सरकार से वार्ता कर उनके समाधान का आश्वासन दिया। 

कार्यक्रम अध्यक्ष और एनयूजे के पूर्व अध्यक्ष पी.के.राय ने पत्रकारों की सामाजिक आर्थिक स्थिति पर प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि पत्रकार विषम परिस्थितियों में काम करते हैं। लेकिन, उन्हें उनके कार्यों और श्रम का पूरा प्रतिफल नहीं मिल पाता है। इसके पूर्व समारोह में वरिष्ठ पत्रकार और उपजा के संस्थापक सत्येन्द्र शुक्ल का अभिनन्दन  किया गया। उपजा के प्रदेश अध्यक्ष रतन दीक्षित ने अभिनन्दन पत्र पढा तथा श्री शुक्ल के पत्रकारिता के लिए किये गए योगदान से सभी को अवगत कराया। इस अवसर पर विचार व्यक्त करते हुए वरिष्ठ पत्रकार सत्येन्द्र शुक्ल ने कहा कि पत्रकारिता के स्तर को ऊंचा बनाए रखना जरुरी है। इसे किसी ी स्थिति में नीचे नहीं आने दें। उन्होंने पत्रकारों से अपील की कि वे अनावश्यक रूप से टीका टिप्पड़ी से बचें। मई दिवस समारोह में प्रदेश के प्रमुख सचिव श्रम शैलेष कृष्ण, पूर्व सूचना आयुक्त वीरेन्द्र सक्सेना, उपजा के पूर्व अध्यक्ष वीर विक्रम बहादुर मिश्र, वरिष्ठ पत्रकार अजय कुमार, रामदेव  त्रिपाठी, शिवशंकर गोस्वामी, राजीव शुक्ल, रवीन्द्र जायसयवाल, हेमन्त तिवारी, योगेश मिश्र, अरविन्द शुक्ला, देवकीनन्दन मिश्र, सत्येन्द्र अवस्थी, रजी रिजवी, आदर्श प्रकाश सिंह, तारकेश्वर मिश्रा, दिलीप अनिोहोत्री, जे.पी.शुक्ला, अशोक मिश्र, ारत सिंह, राजेश सिंह, टी.एस.त्रिवेदी समेत ारी संख्या में वरिष्ठ पत्रकार और उनके परिजन मौजूद थे।

समारोह में पत्रकारों की समस्याओं पर एक तेरह सूत्री मांग पत्र श्रम मंत्री को दिया गया। इसके पूर्व अतिथियों का परिचय उपजा के प्रदेश मंत्री सुभाष  सिंह ने कराया। संचालन उपजा के प्रदेश महामंत्री सर्वेश कुमार सिंह ने किया।

लखनऊ, 02 मई2012 :: प्रदेश सरकार पत्रकारों की सभी  समस्याओं का शीघ्र समाधान करेगी। मांगों पर सहानुभूति  पूर्वक विचार किया जाएगा। यह आश्वासन मई दिवस समारोह में प्रदेश के श्रम मंत्री डा.वकार अहमद शाह ने दिया। डा.शाह समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में विचार व्यक्त कर रहे थे।
डा.शाह ने कहा कि आज समारोह में उन्हें जो पत्रकारों की और से मांग पत्र दिया गया है। उसे प्रदेश के मुख्यमंत्री के सम्मुख प्रस्तुत करके सभी मांगों पर विचार किया जाएगा तथा मागों को स्वीकृत कराने का  प्रयास किया जाएगा। समारोह के विशिष्ट अतिथि विधान परिषद् सदस्य समाजवादी पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता राजेन्द्र चैधरी ने कहा कि पत्रकारिता जोखिम रा क्षेत्र है। पत्रकार खतरे मोल लेकर मिशन में जुटे हुए हैं। पत्रकारों की लेखनी समाज को दिशा दे सकती है। लोकतंत्र को जीवित रखने में पत्रकारिता का बड़ा योगदान है। क्योंकि लोकतंत्र समाज और जीवन में ी महत्वपूर्ण स्थान रखता है। लेकिन इस पेशे को स्वार्थी तत्वों से बचाकर रखना होगा। पत्रकारों को अन्याय, विषमता के खिलाफ संघर्ष करना पड़ता है। लोकतांत्रिक मूल्यों को जीवित रखने की ी उनपर बड़ी जिम्मेदारी है। उन्होंने पत्रकारों की समस्याओं पर प्रदेश सरकार से वार्ता कर उनके समाधान का आश्वासन दिया।
कार्यक्रम अध्यक्ष और एनयूजे के पूर्व अध्यक्ष पी.के.राय ने पत्रकारों की सामाजिक आर्थिक स्थिति पर प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि पत्रकार विषम परिस्थितियों में काम करते हैं। लेकिन, उन्हें उनके कार्यों और श्रम का पूरा प्रतिफल नहीं मिल पाता है। इसके पूर्व समारोह में वरिष्ठ पत्रकार और उपजा के संस्थापक सत्येन्द्र शुक्ल का अभिनन्दन  किया गया। उपजा के प्रदेश अध्यक्ष रतन दीक्षित ने अभिनन्दन पत्र पढा तथा श्री शुक्ल के पत्रकारिता के लिए किये गए योगदान से सभी को अवगत कराया। इस अवसर पर विचार व्यक्त करते हुए वरिष्ठ पत्रकार सत्येन्द्र शुक्ल ने कहा कि पत्रकारिता के स्तर को ऊंचा बनाए रखना जरुरी है। इसे किसी ी स्थिति में नीचे नहीं आने दें। उन्होंने पत्रकारों से अपील की कि वे अनावश्यक रूप से टीका टिप्पड़ी से बचें। मई दिवस समारोह में प्रदेश के प्रमुख सचिव श्रम शैलेष कृष्ण, पूर्व सूचना आयुक्त वीरेन्द्र सक्सेना, उपजा के पूर्व अध्यक्ष वीर विक्रम बहादुर मिश्र, वरिष्ठ पत्रकार अजय कुमार, रामदेव  त्रिपाठी, शिवशंकर गोस्वामी, राजीव शुक्ल, रवीन्द्र जायसयवाल, हेमन्त तिवारी, योगेश मिश्र, अरविन्द शुक्ला, देवकीनन्दन मिश्र, सत्येन्द्र अवस्थी, रजी रिजवी, आदर्श प्रकाश सिंह, तारकेश्वर मिश्रा, दिलीप अनिोहोत्री, जे.पी.शुक्ला, अशोक मिश्र, ारत सिंह, राजेश सिंह, टी.एस.त्रिवेदी समेत ारी संख्या में वरिष्ठ पत्रकार और उनके परिजन मौजूद थे।
समारोह में पत्रकारों की समस्याओं पर एक तेरह सूत्री मांग पत्र श्रम मंत्री को दिया गया। इसके पूर्व अतिथियों का परिचय उपजा के प्रदेश मंत्री सुभाष  सिंह ने कराया। संचालन उपजा के प्रदेश महामंत्री सर्वेश कुमार सिंह ने किया।

Leave a Reply