Raghuvar Das
Latest News Politics Top News

प्रधानमंत्री आवास योजना-ग्रामीण का शुभारंभ कांके प्रखंड अंतर्गत चुटु पंचायत के पतरातु गांव में।

Raghuvar Dasरांची, झारखण्ड । फरवरी  । 01, 2017 :: मुख्यमंत्री  रघुवर दास ने कहा कि चुटु पंचायत के ओडीएफ करने पर और बसंत पंचमी के अवसर पर हम सब संकल्प लें कि सभी बच्चे स्कूल जायें। गरीबी का सबसे बड़ा कारण शिक्षा का नहीं होना है। हर माता-पिता का फर्ज है कि अपने बच्चों को शिक्षित करें ताकि नई पीढ़ी गरीबी में न जीएं। बेटी को अवश्य पढ़ायें। एक-एक घर के बच्चे-बच्चियाँ स्कूल जरूर जाएँ। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना गरीब के लिए ऐतिहासिक योजना है। प्रधानमंत्री आवास योजना में हम पूरे देश में तीसरे स्थान पर हैं। 5 दिन तक चलने वाले विशेष अभियान में अगर अधिकारी मन से काम करेंगे तो इसी महीने में हम पहले स्थान पर आ जायेंगे। अधिकारी निर्णय लेने में देरी न करें। भोजन और वस्त्र के समान आवास भी एक बुनियादी आवश्यकता है। आजादी के 70 वर्षों के बाद भी करोडों लोग बेघर हैं। नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में वित्त मंत्री अरूण जेटली ने 2017-2018 के बजट में प्रधान मंत्री आवास योजना में 15 हजार करोड़ रूपए की राशि को बढ़ाकर 23 हजार करोड़ रूपए की राशि का प्रावधान किया है। इससे 2022 तक हर बेघर को घर मिल सकेगा। बजट में दो एम्स की घोषणा की गई है जिसमें एक एम्स झारखण्ड में भी बनेगा इसके लिए प्रधानमंत्री, वित्त मंत्री और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री को धन्यवाद।। वे आज कांके प्रखंड अंतर्गत चुटु पंचायत के पतरातु गांव में प्रधानमंत्री आवास योजना-ग्रामीण का शुभारंभ कार्यक्रम में लोगों को संबोधित कर रहे थे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि मैंने अपने जीवन का एक मात्र लक्ष्य बनाया है- झारखण्ड की गरीबी समाप्त करना। गरीब के लिए जितना खजाना लुटाना पड़ेगा, सरकार लुटाएगी। सरकार गरीबों को रोजगार देने का काम करेगी। लोगों को राजमिस्त्री,कारपेंटर इत्यादि का प्रशिक्षण देगी। महिलाओं को भी स्वरोजगार के लिए सरकार प्रशिक्षित करेगी। उन्होंने कहा कि चुटु पंचायत में गरीबी को समाप्त करने हेतु सभी गांव वासी मुखिया को सहयोग करें। उन्होंने कहा कि जनता ने आपको मुखिया बनाया है और मुझे राज्य का मुखिया इसलिए हमें ईमानदारी से जनहित के कार्य करने चाहिए। सरकार राज्य की विधवा बहनों को पेंशन दे रही है।  विधवा बहनों के लिए राज्य सरकार अलग से घर बनायेगी,ताकि उन्हें दर दर की ठोकर न खानी पडें। उन्होंने कहा कि गांव में युवा उद्यमी एवं सखी मंडल का गठन किया जा रहा है जिसमें 15 लोगों का समूह रहेगा। वे स्वयं निर्णय लेंगे कि गाँव में कौन सा कुटीर उद्योग/ लघु उद्योग स्थापित किया जाए। झारखण्ड में लाह एवं सिल्क पर आधारित कुटीर उद्योग की असीम संभावनाएं है। लाह एवं कुटीर उद्योग को विकसित किया जाएगा। राज्य सरकार एक लाख सखी मंडल को स्मार्ट फोन देगी जिससे वे कैशलेस ट्रांजेक्सन कर सकें। राज्य की सभी बडी समस्या का एक ही निदान है- विकास, विकास और केवल विकास। सिर्फ शहरों का विकास होने से विकास नहीं होगा बल्कि राज्य के हर गांव के विकास से ही  राज्य का विकास संभव है। मुख्यमंत्री श्री दास ने घोषणा की कि राँची से बोड़या,चंदवे होकर ओरमांझी जाने वाली सड़क का चौडीकरण किया जाएगा।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के लाभुकों जतरी देवी, मो. रफिक अंशारी, सोना मणी देवी, आशमा खातुन, बसदेव मुण्डा, सुकरा मुण्डा, हमिदा खातुन, सदीना खातुन, सनिचरवा मुण्डा, मो. अबुल अंशारी को स्वीकृती पत्र सौंपा एवं पतरातु गांव की जतरी देवी के प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत बन रहे आवास की आधार-शिला रखी। इस अवसर पर उन्होंने राजमिस्त्री के प्रशिक्षण प्राप्त प्रतिभागी श्रीमती आशा देवी , श्री कृष्णा महतो एवं अन्य को प्रशिक्षण प्रमाणपत्र सौंपा।

कार्यक्रम में ग्रामीण विकास मंत्री श्री नीलकंठ सिंह मुण्डा ने कहा कि प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना की शुरूआत इस गांव से हो रही है। झारखण्ड प्रदेश में उदहारण के रूप में यह गांव सामने आया हैं। झारखण्ड प्रदेश विकास के पथ पर चल पड़ा है। उन्होंने कहा कि जिस गरीब के पास आवास नहीं है उसे सरकार आवास देगी। 2019 तक 5 लाख लोगों को सरकार आवास बनाकर देगी। जो भी आवास बनेगा वह गुणवत्तापूर्ण होगा। उस मकान में दो कमरे, किचन, शौचालय और बरामदा भी होगा। आने वाले दिनों में ग्रामीण विकास की योजनाओं को तेजी से धरातल पर लाने की कोशिश विभाग कर रहा है। राजमिस्त्री की कमी है इसलिए 5 लाख लोगों को राजमिस्त्री का प्रशिक्षण भी दिया जायेगा । उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के अंतर्गत बनने वाले सभी आवासों का रंग एक जैसा होगा।

 मुख्य सचिव श्रीमती राजबाला वर्मा ने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के तहत 2 लाख लाभार्थियों का ऑनलाइन निबंधन किया गया है । इन आवासों का निर्माण इसी वित्तीय वर्ष में पूरा कर लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि आवास निर्माण की गुणवत्ता पर ध्यान रखें क्योकि यह आपके सपनो का घर होगा। चुटु पंचायत खुले में शौच से मुक्ति की ओर है। शौचालय मानव सुरक्षा के लिए बहुत आवश्यक है, जिससे बिमारियों से बचा जा सकता है। ग्राम सभा जागरूक होकर वार्ड समिति, कृषि समिति बनाये, सरकारी योजनाओं को लागू करने में सक्रिय भूमिका निभाएं।

इस अवसर पर कांके के विधायक डॉ जीतु चरण राम, प्रधान सचिव ग्रामीण विकास विभाग एन.एन. सिन्हा, राँची के उपायुक्त मनोज कुमार, राँची के उप विकास आयुक्त विरेंद्र कुमार सिंह, चुटु पंचायत के मुखिया सोमनाथ मुण्डा एवं बडी संख्या में ग्रामीण उपस्थित थे।

 

Leave a Reply